CDS बिपिन रावत के 65वें जन्मदिवस पर उन्हें शत-शत नमन

16 Mar, 2022
Deepa Rawat
Share on :

नरल बिपिन रावत देश के पहले सीडीएस होने के साथ साथ सेना के 27वें आर्मी चीफ भी थे. बिपिन रावत को सेना में लाये गये बड़े और मुख्य परिवर्तनों के लिए जाना जाता है. पूरे तीन साल के कार्यकाल में सेना प्रमुख के रूप में सेवा करने के बाद, रावत ने 31 दिसंबर, 2019 को सीडीएस के रूप में पदभार संभाला। उन्होंने लगभग पाँच वर्षों तक फोर-स्टार रैंक पर काम किया, जिससे वह भारत में सबसे लंबे समय तक सेवा देने वाले फोर-स्टार जनरल बन गए।

नई दिल्ली: जनरल बिपिन रावत का जन्म 16 मार्च 1958 को उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में एक क्षत्र‍िय परिवार में हुआ. जनरल बिपिन रावत के पिता लक्ष्मण सिंह रावत भी सेना से लेफ्टिनेंट जनरल रहे हैं. 

जनरल बिपिन रावत से जुड़ी कुछ खास बातें:

• रावत ने देहरादून के कैम्ब्रियन हॉल स्कूल और सेंट एडवर्ड स्कूल से पढ़ाई पूरी की।

• रावत ने राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला और भारतीय सैन्य अकादमी, देहरादून से ट्रेनिंग ली। 

• रावत सेना में 1978 में शामिल हुए और 11 गोरखा राइफल्स की पांचवीं बटालियन में उन्हें कमिशन मिला।

• रावत ने 2011 में चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय से सैन्य मीडिया अध्ययन में पीएचडी की है।

• देश के 26वें आर्मी चीफ बनने वाले बिपिन रावत सितंबर 2016 में वाइस चीफ बने थे। 

• जनरल बिपिन रावत के नेतृत्‍व में 29 सितंबर 2016 को पाकिस्‍तान में सर्जिकल स्‍ट्राइक की गई थी। 

अपने चार दशकों की सेवा के दौरान जनरल रावत ने एक ब्रिगेड कमांडर, जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ, दक्षिणी कमान, सैन्य संचालन निदेशालय में जनरल स्टाफ ऑफिसर ग्रेड 2, कर्नल सैन्य सचिव और उप सैन्य सचिव के रूप में कार्य किया है. वह संयुक्त राष्ट्र शांति सेना का भी हिस्सा रहे हैं और उन्होंने कांगो लोकतांत्रिक गणराज्य में एक बहुराष्ट्रीय ब्रिगेड की कमान संभाली थी.

अपनी सेवा के दौरान, जनरल रावत को कई पुरस्कारों किया गया है. मालूम हो, देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत का 8 दिसम्बर 2021 को निधन हो गया था जिससे पूरे देश को गहरा सदमा लगा. दरअसल, भारतीय वायुसेना का एमआई-17 हेलीकॉप्टर तमिलनाडु के नीलगिरि जिले में कुन्नूर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया, जिसमें सवार बिपिन रावत, उनकी पत्नी और अन्य 13 की मौत हो गई. 

इसे भी पढ़ेंउत्तराखंड में भी Tax Free हुई फिल्म The Kashmir Files CM धामी के निर्देश पर मुख्य सचिव ने लिया फैसला

वहीं, जनरल रावत की 65वीं जयंती की पूर्व संध्या पर सेना प्रमुख जनरल एम. एम. नरवणे ने जनरल बिपिन रावत की याद में शीर्ष सैन्य थिंक टैंक ‘यूनाइटेड सर्विस इंस्टीट्यूशन ऑफ इंडिया’ में ‘चेयर ऑफ एक्सेलेंस’ स्थापित किये जाने की घोषणा की.

बता दें, जनरल रावत को 21 मार्च को राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले एक समारोह में भारत के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से भी सम्मानित किया जाएगा।

News
More stories
यूपी के लोगों के लिए बड़ी खुशखबरी,होली बाद भी 15 करोड़ लोगों को मिलता रहेगा मुफ्त राशन
%d bloggers like this: