Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

UP: बदायूं में फूड पॉइजनिंग से 28 छात्राएं हुई बीमार, अस्पताल में भर्ती

04 Apr, 2022
Employee
Share on :

सर्वोदय आवासीय बालिका विद्यालय की 28 छात्राएं फूड पॉइजनिंग के कारण बीमार हो गई हैं. जानकारी के अनुसार, स्कूल में देर रात दूषित खाना खाने से इन छात्राओं को उल्टी-चक्कर आने शुरू हो गए थे, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में बी भर्ती कराया गया.

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के बदायूं के दातागंज स्थित समाज कल्याण विभाग के सर्वोदय आवासीय बालिका विद्यालय की 28 छात्राएं फूड पॉइजनिंग के कारण बीमार हो गई हैं. जानकारी के अनुसार, स्कूल में देर रात दूषित खाना खाने से इन छात्राओं को उल्टी-चक्कर आने शुरू हो गए. इसके बाद सभी छात्राओं को तत्काल प्रभाव से अस्पताल में भर्ती कराया गया. इस वक्‍त सभी छात्राओं की हालत नियंत्रण में बताई जा रही हैं. आपको बताते चले कि दातागंज तहसील क्षेत्र के समरेर ब्लॉक में स्थित सर्वोदय आवासीय बालिका विद्यालय में 300 से अधिक बालिकाएं अध्ययनरत हैं और यह विद्यालय आश्रम पद्धिति पर आधारित है.   

छात्राओं की तबियत ख़राब होने के बाद अस्पताल में भर्ती

और यह भी पढ़ें- लखनऊ: बीजेपी दफ्तर के बाहर महिला ने की आत्मदाह की कोशिश, अंदर मौजूद हैं CM योगी

बताया जा रहा है शनिवार शाम इन छात्राओं ने अरहर की दाल, लौकी और आलू खाए थे. लेकिन रात 10 बजे के बाद से छात्राओं की तबीयत खराब होना एक बाद एक की शुरू हुई थी. जैसे ही इनके अभिभावकों को पता चला तो वह रात में ही इस आश्रम में पहुँच गये थे और जिसके बाद इन अभिभावकों को गेट बंदकर रोका गया तो उसके अभिभावक और आश्रम के प्रशन के बीच काफी तकरार हुई. इन छात्राओं की तबियत खाना खाने के बाद ख़राब हुई ऐसा जब जांच में पता चला तो अब प्रशासन के ऊपर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए हैं. रात में ही जिला समाज कल्याण अधिकारी रामजनम पहुंच गए. अब फिलहाल के लिए छात्राओं की हालत में सुधार है.

छात्राओं की फूड पोइसनिंग से तबियत ख़राब होने के बाद पुलिस अपनी तहकीकात करने हॉस्पिटल पहुंची

इन छात्राओं की उम्र लगभग 10 से 14 वर्ष की है

सीडीओ ऋषि राज ने बताया कि शनिवार को अधिकांश छात्राओं ने नवरात्रि का व्रत रखा था. इस वजह से भोजन करने वालों की संख्‍या कम थी. जिसके कारण खाना भी कम ही लोगों के लिए बनाया गया था लेकिन खाने में कुछ तो कमियां रही है इसको लेकर जांच बैठा दी गई है अब आगे की जांच में पता लगेगा, साथ ही अब बताया जा रहा है कि बीमार छात्राओं की उम्र 10 से 14 वर्ष के बीच है और उन्हें अस्पताल से जल्द ही छुट्टी दे दी जाएगी.

सीडीओ ऋषि राज भी छात्राओं से मिलने पहुंचे

वहीं, ऋषि राज ने कहा कि खाद्य सुरक्षा अधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा छात्राओं के लिए बने भोजन के साथ मसाले और अन्य सामान के सैंपल लिए जा रहे हैं. इसके बाद उसकी जांच से ही इस मामले का कारण स्पष्ट हो सकेगा. हालांकि रोजाना की तरह ही भोजन बनने के बाद तीन लोगों की टीम ने इसको चखा था. लेकिन उसके बावजूद छात्राएँ बीमार हो गई.

News
More stories
Pakistan: नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव 15 मिनट में वापिस, इमरान ने विपक्ष को किया चारों खानें चित