Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

बीजेपी के शीर्ष नेतृत्त्व ने फिर जताया पुष्कर सिंह धामी पर भरोसा, दुबारा बनेंगे मुख्यमंत्री

21 Mar, 2022
Employee
Share on :

गृहमंत्री अमित शाह के घर हुई बैठक में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के लिए चर्चा हुई थी, जिसके बाद बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने पुष्कर सिंह धामी के नाम पर मुहर लगा दी थी लेकिन उनका नाम सार्वजानिक रूप से अनोउंस नहीं करवाया था

नई दिल्ली: अभी हाली ही में हुए उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के नतीजे आये हैं जिसमें भाजपा को प्रचंड बहुमत मिला था लेकिन इस चुनाव में कार्यवाहक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी चुनाव हार गए थे. इस बात पर अटकलें तेज हो गई थी कि भाजपा का शीर्ष नेतृत्व किसको मुख्यमंत्री बना सकता है कुछ दिनों पहले अमित के घर मीटिंग हुई थी जिसमें भाजपा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, पुष्कर सिंह धामी और पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत इसके अलावा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक भी इस बैठक में मौजूद थे.

उत्तराखंड के कार्यवाहक मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

और यह भी पढ़ें-अमित शाह से मिलने की अटकलों पर सुभासपा सुप्रीमो राजभर ने क्या कहा ?

कहा जा रहा था कि मुख्यमंत्री की दौड़ में पुष्कर सिंह धामी का नाम आगे हैं लेकिन इन अफवाहों को परे करते हुए गृहमंत्री के यहां बैठक शुरू होने से पहले कार्यवाहक सीएम पुष्कर सिंह धामी का बयान सामने आया. उन्होंने कहा कि जनता ने बहुमत और स्पष्ट जनादेश दिया है. पार्टी आलाकमान सरकार बनाने की तैयारी कर रही है. सीएम का चेहरा कौन होगा ये पार्टी तय करेगी.

वहीं दूसरी ओर उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि अमित शाह के घर बैठक होने वाली है उसमें उन्हें भी बुलाया गया हैं और वह इसमें जायेंगे अगर उन्हें पार्टी कि तरफ से जो भी जिम्मेदारी मिलेगी वह उसे निभाएंगे और आगे कहा कि हमारे पास मुख्यमंत्री के चेहरे कि कमी नहीं है. जो नतीजे हमें मिले हैं वो बता रहे हैं कि मैंने कैसा काम किया. मैं मुख्यमंत्री रहूंगा या कोई और यह मैं नहीं कह सकता हूं. ये फैसला केंद्रीय नेतृत्व को करना है.

शीर्ष नेत्तृत्व ने फिर जताया भरोसा पुष्कर सिंह धामी पर

लेकिन पुष्कर सिंह धामी अपनी खटीमा विधानसभा सीट से चुनाव हार गये थे. ये तब हुआ जब प्रधानमंत्री मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह उनकी पीट ठोक रहे थे और उनके लिए चुनाव प्रचार कर रहे थे. लेकिन उसके बावजूद वह चुनाव हार गए.  

चुनाव हारने के बाद भी पुष्कर सिंह धामी ने अपनी छवि और सामर्थ्य से अपनी पार्टी को जीत दिलवा दी थी. उसके बाद अटकलें तेज होने लगी थी की उत्तराखंड का मुख्यमंत्री कौन होगा? लेकिन इस दौड़ में सबसे आगे पुष्कर सिंह धामी ही थे भले ही पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत का नाम चर्चा में आया था. लेकिन इसका मतलब ये कतई नहीं था कि वह पुष्कर सिंह धामी की जगह ले लेंगे.

गृहमंत्री अमित शाह के घर हुई बैठक में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री के लिए चर्चा हुई थी, जिसके बाद बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने पुष्कर सिंह धामी के नाम पर मुहर लगा दी थी लेकिन उनका नाम सार्वजानिक रूप से नाम अनोउंस नहीं करवाया था. लेकिन आज पुष्कर सिंह धामी के नाम की औचारिकता पूरी करके उनके ऊपर एक बार और भरोसा जताया है वह दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने जा रहें हैं और उत्तराखंड को अपनी विकास की दूरदर्शी  योजनाओं से काफी आगे ले जायेंगे.

दुबारा बनेंगे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

मीडिया में खबर इस बात के लिए भी तेज हो गई थी की भले ही पुष्कर सिंह धामी अपनी सीट से हार गये हो लेकिन उसके बाद भी बीजेपी को उन्होंने काफी अच्छा नेतृत्त्व दिया था जिसके बल पर बीजेपी इतना बड़ा जनादेश लेकर आई थी. बाद में कहा ये भी जा रहा था कि पुष्कर सिंह धामी पर पहले ही बीजेपी के शीर्ष नेताओं ने मुख्यमंत्री की मुहर लगा दी थी.

News
More stories
नोएडा: बहलोलपुर मंदिर में हुई तोड़फोड़ तो भक्तों ने किया हंगामा, मीट की दुकानों पर चला बुलडोजर