नोएडा: बहलोलपुर मंदिर में हुई तोड़फोड़ तो भक्तों ने किया हंगामा, मीट की दुकानों पर चला बुलडोजर

21 Mar, 2022
Employee
Share on :

घटना के बाद सेंट्रल नोएडा  के डीसीपी हरीश चंद्रा ने बताया कि मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है, शांति व्यवस्था कायम की गई है, मौके पर मंदिर पर कुछ मूर्ति क्षतिग्रस्त अवस्था में पाई गई हैं

नई दिल्ली: नोएडा के बहलोलपुर गाँव में शिव मंदिर में कुछ असामाजिक तत्वों ने तोड़फोड़ के साथ अन्दर रखी शिव की मूर्ति और शिवलिंग को जमीन पर फेंककर उसे तोड़ दिया है. सुबह जब भक्तगण मंदिर में पूजा करने के लिए आये तो उनको इस तोड़फोड़ का दृश्य दिखा तो, वह आग बबूला हो गये और इसके बाद स्थानीय ग्रामीण लोग एक-साथ इकठ्ठा होकर मंदिर के बाहर हंगामा करने लगे. पुलिस को जैसे ही इस घटना की खबर मिली तो वह तत्काल ही घटना स्थल पर पहुँच गई.  

नोएडा के बहलोलपुर गाँव में मंदिर के अन्दर शिवलिंग और मूर्ति को तोड़ा गया

और यह भी पढ़ें- अमित शाह के घर पर होने वाली बैठक में जेपी नड्डा, पुष्कर धामी और त्रिवेंद्र रावत पहुंचेंगे, सीएम कि कुर्सी किसको मिल सकती है?

घटना स्थल पर इस प्रकार की अफवाह भी सामने आई की मंदिर के अन्दर खून से लगे पैरों के निशान भी थे और मंदिर के बाहर कुछ मांस के टुकड़े भी पड़े थे. जिसके बाद सोमवार दोपहर को पुलिस ने बहलोलपुर में स्थित मीट की दुकानों पर बुलडोजर चला कर उन्हें ध्वस्त कर दिया. पुलिस उपायुक्त हरीश चंदर ने बताया कि स्थानीय पुलिस को बहलोलपुर गांव में एक शिव मंदिर के अंदर तोड़फोड़ के बारे में सूचना मिली थी. उन्होंने कहा कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों और डॉग स्क्वॉड के साथ पुलिस की एक टीम तुरंत घटनास्थल पहुंची, जहां एक मूर्ति क्षतिग्रस्त हालत में मिली थी.

पुलिस ने बहलोलपुर गाँव के आस-पास मीत की दुकानों को तोड़ दिया

अपर पुलिस आयुक्त इला मारन ने बताया की शिव की मूर्ति शीशे में रखी हुई थी. जिस भी व्यक्ति ने शीशा तोड़कर उसको निकाला है. उसे कांच का टुकड़ा लग गया होगा जिसके कारण उसके हाथ से खून निकल गया और खून जमीन पर गिर गया होगा और बाद में उसके पैर पड़ गये, जब वह मंदिर से निकल रहा होगा तो उसके पैर खून में लगकर मंदिर में फ़ैल गये होंगे. उस खून को जांच के लिए लैब भेजा गया था जब उसकी जांच आई तो ये साफ़ हो गया की वह किसी मानव का खून है न की किसी जानवर का, अभी मामले की जांच चल रही है. मंदिर की घटना के कारणों का पता नहीं चला सका कि यह चोरी के लिए की गई है या समाज के सौहार्द को बिगाड़ने के लिए घटना को अंजाम दिया गया है.

पुलिस अभी जांच कर रही है…

घटना के बाद सेंट्रल नोएडा  के डीसीपी हरीश चंद्रा ने बताया कि मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है, शांति व्यवस्था कायम की गई है, मौके पर मंदिर पर कुछ मूर्ति क्षतिग्रस्त अवस्था में पाई गई हैं. फॉरेंसिक टीम में डॉग स्क्वॉड की मौके पर जांच कर रही है. वही मंदिर में मिले खून मनुष्य का प्रतीत होता है, इसको लेकर जांच की जा रही है संभवत मंदिर में तोड़फोड़ के दौरान कांच लगने से खून निकला होगा पुलिस द्वारा सभी बिंदुओं पर गहनता से जांच की जा रही है.

घटना के बाद मंदिर में श्रद्धलुओं से शान्ति बनाए रखने के लिए पुलिस की व्यवस्था
News
More stories
Pushkar Singh Dhami चुने गए उत्तराखंड के नए CM, विधायक दल की बैठक में हुआ बड़ा फैसला
%d bloggers like this: