Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

हर राज्य सरकार,स्थानीय निकाय और पंचायत हर जिले में 75 अमृत सरोवर के लिए काम करें : PM मोदी

29 Mar, 2022
Employee
Share on :

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने ‘गृह प्रवेश’ कार्यक्रम के तहत मध्य प्रदेश में PMAY-G योजना के लाभार्थियों के 5.21 लाख घरों का उद्घाटन करते हुए कहा कि मेरी सरकार ने गरीबों को घर देने के काम को प्राथमिकता दी गई. मेरी सरकार ने 2.5 करोड़ पक्के घर गरीबों को सौंप चुकी है, जिनमें से 2 करोड़ ग्रामीण क्षेत्रों में हैं। और इस अभियान को महामारी भी धीमा नहीं कर सकी

प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे देश में कुछ दलों ने गरीबी दूर करने के लिए नारे बहुत लगाए लेकिन गरीबों को सशक्त करने के लिए काम नहीं किया। उन्होंने कहा, “एक बार जब गरीब सशक्त होता है तो उसमें गरीबी से लड़ने का हौसला आता है। एक ईमानदार सरकार के प्रयास, एक सशक्त गरीब के प्रयास जब साथ मिलते हैं तो गरीबी परास्त होती है।”मोदी ने कहा कि गरीबों को अपना पक्का घर देने का ये अभियान सिर्फ एक सरकारी योजना नहीं है। ये गांव को, गरीब को विश्वास देने की प्रतिबद्धता है। उन्होंने कहा, “ये गरीब को गरीबी से बाहर निकलने की हिम्मत देने की पहली सीढ़ी है।” उन्होंने कहा, “ये घर सेवा भावना और गांवों की महिलाओं को ‘लखपति’ बनाने के अभियान को दर्शाते हैं।”

यह भी पढ़ें :- Rajasthan: 10KM तक फैली सरिस्का के जंगलों की आग, बुझाने में लगाए सेना के हेलिकॉप्टर्स

मोदी ने कहा कि गरीबों को अपना पक्का घर देने का ये अभियान सिर्फ एक सरकारी योजना नहीं है। ये गांव को, गरीब को विश्वास देने की प्रतिबद्धता है। उन्होंने कहा, “ये गरीब को गरीबी से बाहर निकलने की हिम्मत देने की पहली सीढ़ी है।” उन्होंने कहा, “ये घर सेवा भावना और गांवों की महिलाओं को ‘लखपति’ बनाने के अभियान को दर्शाते हैं।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि 100 साल में आई इस सबसे बड़ी महामारी में, हमारी सरकार गरीबों को मुफ्त राशन के लिए 2 लाख 60 हजार करोड़ रुपए खर्च कर चुकी है। अगले 6 महीने में इस पर 80 हजार करोड़ रुपएऔर खर्च किए जाएंगे। इच्छित लाभार्थियों को पूर्ण लाभ प्रदान करने की सरकार की प्रतिबद्धता के अनुरूप, सरकार ने 4 करोड़ फर्जी लाभार्थियों को रिकॉर्ड से बाहर कर दिया है। और सरकार योजनाओं को पूरा करने का लक्ष्य लेकर भेदभाव और भ्रष्टाचार की संभावना को खत्म कर रही है।

यह भी :- योगी सरकार 2.0 में कानपुर पुलिस का पहला एनकाउंटर, हिस्ट्रीशीटर ढाबा अरेस्ट

उन्होंने एमएसपी खरीद में नए रिकॉर्ड बनाने के लिए मध्य प्रदेश सरकार और मुख्यमंत्री की सराहना करते हुए कहा कि अनाज की सरकारी खरीद में एमपी ने गजब काम किया है, नया रिकॉर्ड बनाया है, देश के कई राज्यों को पीछे छोड़ दिया है। मध्य प्रदेश के किसान को भी पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 13 हजार करोड़ रुपये मिले।

प्रधानमंत्री ने आगामी नव वर्ष में प्रत्येक जिले में 75 अमृत सरोवर (तालाब) बनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा, हम सब मिलकर एक काम कर सकते हैं। हम संकल्प करें कि इस वर्ष प्रतिपदा से अगली वर्ष प्रतिपदा के तक, हर जिले में 75 अमृत सरोवर बनाएंगे। संभव हो तो हर जिले में ये अमृत सरोवर नए हों, बड़े हों। उन्होंने कहा कि इसके लिए मनरेगा की राशि का उपयोग किया जा सकता है और यह भूमि, प्रकृति, छोटे किसानों, महिलाओं और यहां तक ​​कि पक्षियों और जानवरों के लिए भी बहुत फायदेमंद होगा। उन्होंने हर राज्य सरकार, स्थानीय निकायों और पंचायतों से इस दिशा में काम करने की अपील की।

श्रीलंका में गहराया आर्थिक संकट तो भारत ने निरंतर सहयोग देने का दिया आश्वासन

यह भी पढ़ें :- http://श्रीलंका में गहराया आर्थिक संकट तो भारत ने निरंतर सहयोग देने का दिया आश्वासन

News
More stories
Rajasthan: 10KM तक फैली सरिस्का के जंगलों की आग, बुझाने में लगाए सेना के हेलिकॉप्टर्स