Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

योगी सरकार 2.0 में कानपुर पुलिस का पहला एनकाउंटर, हिस्ट्रीशीटर ढाबा अरेस्ट

29 Mar, 2022
Employee
Share on :

उत्तर प्रदेश के कानपुर में पुलिस एनकाउंटर हुआ. जिसमें हिस्ट्रीशीटर संजय उर्फ ढाबा को गिरफ्तार किया गया. पुलिस ने ढाबा के पास से तमंचा और कारतूस भी बरामद किए. वहीं ढाबा का एक साथी अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गया.

योगी सरकार 2.0 में जीरो टॉलरेंस को लेकर पुलिस ने कानून व्यवस्था को बेहतर करने व बदमाशों पर कार्रवाई तेज कर दी है. इसी क्रम में कानपुर में पुलिस एनकाउंटर हुआ. जिसमें हिस्ट्रीशीटर संजय उर्फ ढाबा एनकाउंटर का पहला शिकार बना. बता दें, ढाबा के खिलाफ एक दर्जन से भी ज्यादा संगीन मुकदमे दर्ज हैं. देर उसकी नबाबगंज इलाके में पुलिस मुठभेड़ हुई. जिसमें उसके पैर में गोली लगी.

योगी आदित्यनाथ

पुलिस ने ढाबा के पास से एक तमंचा और कारतूस बरामद किए हैं. डीसीपी वेस्ट बीबीजीटीएस मूर्ति ने इस एनकाउंटर की पुष्टि की है. खास बात यह है कि योगी सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान भी कानपूर में ऐसा ही पुलिस एनकाउंटर अभियान चला था. बदमाशों के लगातार एनकाउंटर हुए थे. जिसमें लगभग सौ अपराधियों पर गोलियां चलाई गई थीं. अब दूसरा अभियान शुरू होते ही कानपुर के अपराधियों में खौफ पैदा हो गया है.

बदमाशों ने की फायरिंग

थाना नवाबगंज

डीसीपी पश्चिम बीबीजीटीएस मूर्ति ने बताया कि देर रात स्वॉट टीम व थाना नवाबगंज पुलिस टीम द्वारा गंगा बैराज से बिठूर रोड पर वाहनों की चेकिंग की जा रही थी तभी एक मोटरसाइकिल पर सवार दो व्यक्ति आते दिखाई दिए. चेकिंग कर रही पुलिस टीम ने उन्हें रोका तो वे मोटरसाइकिल से भागने लगे. शक के आधार पर उनका पीछा गया. पुलिस द्वारा पीछा करते देख बदमाशों ने फायरिंग कर दी. जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस की गोली एक मोटरसाइकिल सवार बदमाश के पैर में जा लगी और वह वहीं गिर गया. इस बीच उसका दूसरा साथी अंधेरे में भाग निकला. पकड़े गए बदमाश की पहचान संजय उर्फ ढाबा के रूप में हुई.

News
More stories
विल स्मिथ ने सार्वजनिक तौर पर मांगी क्रिस रॉक से माफी