Rajasthan: 10KM तक फैली सरिस्का के जंगलों की आग, बुझाने में लगाए सेना के हेलिकॉप्टर्स

29 Mar, 2022
Deepa Rawat
Share on :
Fire In ALwar Rajasthan

Rajasthan Alwar News: अलवर के सरिस्का के जंगल में भीषण आग लग गई. आग बुझाने में सेना के दो हेलीकॉप्टर लगाए गए हैं. ये हेलीकॉप्टर सिलिसेड झील से पानी लाकर आग प्रभावित इलाको में ऊपर से पानी डालकर आग बुझा रहे हैं.

नई दिल्ली: राजस्थान के अलवर जिले के सरिस्का बाघ अभ्यारण (Sariska Tiger Reserve) के अकबरपुर रेंज के पृथ्वीपुरा बालेटा के जंगल में लगी भीषण आग करीब 10 किलोमीटर क्षेत्र में फैल चुकी है. आग को काबू पाने के लिए अब वायुसेना के 2 हेलिकॉप्टर ने मोर्चा संभाल लिया है. वायुसेना का 2 हेलिकाप्टर सुबह 9 बजे बजे अलवर के केंद्रीय विधालय ग्राउंड में उतरे. इसके बाद दोनों हेलिकॉप्टर सिलिसेड झील से पानी एयरलिफ्ट कर सरिस्का में आग बुझाने में जुट गए.

वायुसेना के हेलिकॉप्टर ने मोर्चा संभाला

वायुसेना के अधिकारियों ने एडीएम सुनीता पंकज और सीसीएफ सरिस्का से आग के बारे में जानकारी ली. इसके बाद उड़ान भरकर रवाना हो गए. दोनों हेलिकॉप्टर सरिस्का में आग प्रभावित क्षेत्र में आग बुझाने के लिए एक राउंड कर चुके हैं. वायुसेना का एक हेलिकॉप्टर उत्तर प्रदेश के सरसावा और दूसरा हेलिकॉप्टर राजस्थान के  जोधपुर से आया है. हेलिकॉप्टर एक राउंड में साढ़े 3 हजार लीटर पानी एअरलिफ्ट कर ले जा रहे हैं. हेलिकॉप्टर में फ्यूल भरने के लिए टेंकर की व्यवस्था भी की गई हैं.

Air Force Helicopter

एडीएम सिटी सुनीता पंकज ने बताया कि एयरफोर्स की तरफ से हेलीकॉप्टरों में फ्यूल के दिक्कत ना हो. उसके लिए अलग से फ्यूल फिल करने के लिए एक हेलिकॉप्टर भेजा है. जिससे आग बुझाने के काम में किसी भी तरह की दिक्कत ना हो सके.

वन विभाग के अधिकारियों ने कहा कि जंगल में आग लगने के कारण जंगल क्षेत्र में लगे मधुमक्खी के छत्ते टूट गए हैं. ऐसे में लगातार पूरे क्षेत्र में मधुमक्खियां घूम रही हैं. जिसके चलते जंगल क्षेत्र में आग बुझाने के कार्य में लगे वन कर्मी और ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. मधुमक्खियां वन कर्मियों के ग्रामीणों पर हमला कर रही हैं.

Sariska Tiger Reserve

सरिस्का क्षेत्र के निदेशक आरएन मीणा ने बताया की सरिस्का के पृथ्वीपुर इलाके में 27 मार्च को आग लगने की सूचना मिली थी. उसके बाद लगातार आग को बुझाने के प्रयास किए जा रहे हैं लेकिन आज 8 से 10 किलोमीटर का एरिया में फैल चुकी है इसलिए वायुसेना के हेलिकॉप्टर मंगाए गए हैं, जिनसे आग बुझाने के प्रयास किए जा रहे हैं. इसके अलावा ढाई सौ से अधिक फॉरेस्ट कर्मी और ग्रामीण आग बुझाने में जुटे हुए हैं. सरिस्का में बाघिन और उसके शावकों को सुरक्षित बचाया जा रहा है.

फॉरेस्ट कर्मी और ग्रामीण आग बुझाने में जुटे

एडीएम सिटी सुनीता पंकज सिंह ने बताया कि सरिस्का प्रशासन के द्वारा सरिस्का में आग भड़कने के बाद हेलिकॉप्टर और सेना की मदद मांगी थी. इसके बाद सेना के दो हेलीकॉप्टर मंगवाया गए हैं, जो ऑपरेशन में लग गए हैं. ये हेलिकॉप्टर सिलिसेड झील से पानी पानी एअरलिफ्ट कर आग प्रभावित इलाकों में आग बुझाने में जुटे हुए हैं. सरिस्का में आग से बाघ और अन्य जीवों को बचाने का प्रयास किए जा रहे हैं.

News
More stories
मिलिए बेंगलुरु ऑटो ड्राइवर से जो कभी अंग्रेजी लेक्चरर हुआ करता था
%d bloggers like this: