Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

पानी की किल्लत से परेशान हुई नासिक की महिलाएं, रोज़ उतरना पड़ता है गहरे कुँए में

15 Apr, 2022
Employee
Share on :
nashik maharastra Water Crisis

महाराष्ट्र के नासिक से एक ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक आदिवासी इलाके में महिलाएं पीने के पानी के लिए रोज खुद को जोखिम में डालताी है आईये ड़ालते है नजर खबर पर …

नई दिल्ली: गर्मियों के दौरान, भारत के कई हिस्से सूखे और लू की चपेट में आ जाते हैं, वहीं नाशिक के ग्रामीण इलाकों में कई महिलाओं को अपने परिवार की प्यास बुझाने के लिए अपनी जान जोखिम में डालनी पड़ती है, वहीं सोशल मीडिया में ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो रहा है, कि कैसे साफ पानी पीने के लिए महाराष्ट्र में कुछ महिलाएं एक गहरे कुएं में डूब कर साफ़ पानी निकलने के लिए मजबूर हो गई हैं ।

ग्रामीण महिलओं का कहना है की उन्हें कुएं से पानी लाने के लिए रोज़ 2 किलोमीटर की यात्रा करनी पड़ती है क्योंकि उनके गांव में पानी की सुविधा नहीं है। उन्होंने ये भी बताया कैसे, कुछ महिलाएं कुएं से पानी निकलते समय कुएं में गिर भी जाती हैं।

यह भी पढ़ेंयूपी में IPS के बाद अब हुए IAS के तबादले, मेरठ-रायबरेली समेत 6 जिलों के बदले गए DM

अल्का अहिराओ

वहीं सिंचाई विभाग की अभियंता, अलका अहिरराव का कहना है की नासिक में पानी की स्थिति पिछले साल से बेहतर है। हम कलेक्टर कार्यालय से मांग प्राप्त करते हैं और पीने के प्रयोजनों और अन्य गतिविधियों के वितरण के लिए पानी की मात्रा पर निर्णय लेते हैं. अगले जून तक पानी की किल्लत नहीं होगी.

News
More stories
JNU कैंपस के बाहर लगे भगवा झंडे और'भगवा जेएनयू' के पोस्टर