निलंबित चीफ इंजीनियर वीरेंद्र राम के सीए मुकेश मित्तल को झटका, हाईकोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी

16 Feb, 2024
Head office
Share on :

रांची : शुक्रवार को रांची हाईकोर्ट में टेंडर घोटाला से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े मामले में निलंबित चीफ इंजीनियर वीरेंद्र राम के सीए मुकेश मित्तल को झारखंड हाई कोर्ट से झटका लगा है. हाईकोर्ट ने अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है. निचली अदालत से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. टेंडर मैनेज कर करोड़ों की वीरेंद्र राम ने संपति अर्जित की उस संपति को खपाने में मुकेश मितल ने सहयोग की है.

वीरेंद्र राम के काले पैसों को सफेद बनाने का है आरोप मुकेश मित्तल पर आरोप है कि उसने वीरेंद्र राम के काले धन को सफेद करने में मदद की थी. वह निलंबित चीफ इंजीनियर बीरेंद्र राम के काले धन को कई हथकंडे अपनाकर सफेद बना देता था. जिसके बाद उन पैसों को वीरेंद्र राम के पारिवारिक सदस्यों के खाते में जमा करवा दिया जाता था. मुकेश मित्तल की वजह से वीरेंद्र राम काले धन को सफेद कर के अवैध रुप से पैसों का कारोबार कर रहा था.

News
More stories
नि:शुल्क कैंसर शिविर में हजारों रोगियों को मिलेगी उपचार सुविधा - उप मुख्यमंत्री राजेन्द्र शुक्ल
%d bloggers like this: