Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

इटावा में शिवपाल यादव का छलका दर्द, महाभारत के चरित्रों का जिक्र कर कहा- हनुमान ने ही राम को युद्ध जिताया

27 Mar, 2022
Employee
Share on :

सपा प्रमुख अखिलेश यादव के चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सार्वजनिक तौर पर अपनी नाराजगी जाहिर की है. वह लखनऊ से सीधे इटावा पहुंचे. यहां एक कार्यक्रम में उनका दर्द छलक उठा

नई दिल्ली: सपा प्रमुख अखिलेश यादव के चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने सार्वजनिक तौर पर अपनी नाराजगी जाहिर की है. जहाँ वह लखनऊ से सीधे इटावा पहुंचे. यहां एक कार्यक्रम में उनका दर्द छलक उठा. उन्होंने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए शिवपाल यादव इटावा में भागवत कथा के कार्यक्रम में रामायण और महाभारत के चरित्रों का उदाहरण दिया. साथ ही कहा कि हमें हनुमान की भूमिका याद रखनी चाहिए, क्योंकि उन्हीं की वजह से राम युद्ध जीत सके थे.

शिवपाल यादव इटावा में भागवत कथा में शामिल हुए

और यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में कुएं में गिरने से हुई, नौ बच्‍चों समेत 13 की मौत।

बता दें कि शिवपाल यादव इटावा में भागवत कथा में शामिल हुए. इस दौरान उन्होंने कहा कि भगवान राम का राजतिलक होने वाला था, लेकिन उनको वनवास जाना पड़ा. इतना ही नहीं हनुमान जी की भूमिका भी बेहद महत्वपूर्ण थी. क्योंकि अगर वह नहीं होते, तो राम युद्ध नहीं जीत पाते. ये भी याद रखें कि हनुमान ही थे, जिन्होंने लक्ष्मण की जान बचाई.

`प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि मुझे पार्टी की बैठक में आमंत्रित नहीं किया गया. यहाँ तक की मैंने 2 दिनों तक प्रतीक्षा की और इस बैठक के लिए अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए थे, लेकिन मुझे आमंत्रित नहीं किया गया और साथ ही कहा कि मैं समाजवादी पार्टी से विधायक चुना गया हूं, उसके बावजूद मुझे आमंत्रित नहीं किया गया.

शिवपाल यादव और सपा प्रमुख अखिलेश यादव

आपको बता दें कि शिवपाल यादव इटावा की जसवंतनगर विधानसभा में पहुंचे. यहां श्रीमद् भागवत कथा में शामिल हुए. इसी कथा में उनके समधि सिरसागंज के पूर्व विधायक हरिओम यादव भी मौजूद थे. शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि हम तो चाहते थे कि हरिओम यादव विधायक बन जाएं, लेकिन वह हार गए.

सपा के प्रदेश अध्यक्ष ने दी सफाई

सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने कहा कि 28 मार्च को सपा गठबंधन में शामिल सभी दलों के नेताओं को बुलाया गया था, जिसमें शिवपाल सिंह यादव, पल्लवी पटेल, ओम प्रकाश राजभर सहित अन्य नेता शामिल थे. लेकिन शिवपाल व पल्लवी के सपा के सिंबल पर चुनाव लड़ने और अधिकृत रूप से सपा के विधायक होने के सवाल पर प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सभी सहयोगियों को एक साथ बुलाया गया था.

सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल
News
More stories
महंगा होगा इलाज: 1 अप्रैल से पैरासिटामोल समेत 800 दवा होंगी महंगी, 10% तक बढ़ सकते है दाम