Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

राजनीति में ड्रामा या ड्रामे में राजनीति? नाले में कूदे AAP पार्षद, फिर नहाया दूध से

23 Mar, 2022
Employee
Share on :

नई दिल्ली: प्रसिद्ध बॉलीवुड फिल्म नायक के एक प्रसिद्ध दृश्य को सच करते हुए आम आदमी पार्टी के एक पार्षद ने मंगलवार को एक नाले में छलांग लगा दी और बाद में कैमरों और वहां मौजूद जनता के सामने दूध से स्नान किया।मालूम हो, दिल्ली एमसीडी चुनाव नजदीक आ रहा है ऐसे में नेताओं के अलग-अलग रूप भी देखने को मिल रहे हैं. इसी बीच, आम आदमी पार्टी के एक पार्षद ने कुछ ऐसा कर दिया की उसकी विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

जी हाँ, आप पार्षद हसीब उल हसन सफाईकर्मी बन कर नाले की सफाई करते देखे गये. जब इसके पीछे का सच बाहर आया तो कुछ पार्षद हसन का मजाक उड़ाने लगे तो वहीं कुछ ने इसे राजनितिक ड्रामा बताया. 

दरअसल हुआ यूं कि कॉर्पोरेटर हसीब उल हसन ‘शास्त्री पार्क’ इलाके के दौरे पर निकले थे। इस दौरान उन्हें एक नाला दिखा जो पूरी तरह से जाम था और उससे बहुत बदबू आ रही थी। वैसे सामान्य तौर पर तो पार्षद को सफाई कर्मचारी बुलवाकर सफाई करवानी चाहिए थी लेकिन हसीब उल हसन अलग ही मिजाज में थे। आप षार्षद ने कमर में रस्सी डाली और उस गंदे नाले में कूद पड़े। जहाँ उनके समर्थक नाले के बाहर से उन्हें पकड़े हुए थे वहीं पार्षद खुद नाला साफ करने में लग गये। ऐसा करने की देर थी कि वहां लोगों की काफी भीड़ जुट गई। नाले की सफाई के बाद जब पार्षद कीचड़ से लथपथ बाहर निकले तो लोगों को बॉलीवुड फिल्म नायक के अनील कपूर की याद आगयी। नाले से निकलते ही उन्हें दूध से नहलाया गया.

इसे भी पढ़ेंShaheed Diwas 2022: पंजाब में 23 मार्च को सार्वजनिक अवकाश, दिल्ली में भगत सिंह के नाम पर बनेगा स्कूल

नाले के अंदर रहते हुए ही उन्होंने मीडियाकर्मियों से बातचीत के दौरान आरोप लगाया कि इस मुद्दे को उच्च अधिकारी के सामने रखना चाहिए था लेकिन इस क्षेत्र के लोगों के लिए कुछ नहीं किया गया इसलिए उन्हें यह पहल करनी पड़ी। हसीब उल हसन का कहना है कि बीजेपी शासित निगम ने इलाके में पांच साल से इस नाले की सफाई नहीं करवाई है। कई बार अधिकारियों को कहा लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। 

वहीं, खबर के तेजी से फैलने से बीजेपी के नेता भी एक्शन में आ गए। मीडिया से फोन पर बात करते हुए बीजेपी नेताओं ने पूरी घटना को राजनीतिक ड्रामा बताते हुए कहा कि दिल्ली में कहीं पानी जमा होता है तो फ्लड डिपार्टमेंट की जिम्मेदारी बनती है साफ कराने की जो दिल्ली सरकार के अतंर्गत आता है। बीजेपी का कहना है कि आप पार्षद राजनीति कर रहे हैं और एमसीडी अपना काम बखूबी कर रही है।

बता दें कि केंद्र सरकार अब एमसीडी को फिर से एक करने की तैयारी कर रही है। हालाँकि, निगम के एक होने से चुनाव पर क्या असर पड़ने वाला है उसे लेकर अभी कुछ कहा नहीं गया है।

News
More stories
रूस के हमले से दहला यूक्रेन का मरियापुल शहर, 2 लाख लोगों की जान खतरे में