Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

MP Rain: मध्यप्रदेश में बारिश से हाहाकार, नर्मदा-चंबल नदी समेत उफान पर नाले, CM शिवराज सिंह नें दी चेतावनी

16 Aug, 2022
Employee
Share on :
MP Rain

मध्यप्रदेश के कई जिलों में जारी भारी बारिश के चलते प्रदेश के हालात खराब हैं। लगातार हो रही बारिश से नर्मदा, चंबल, बेतवा जैसी बड़ी नदियों के साथ ही छोटे नदी नाले उफान पर हैं। बांधों में पानी खतरें के निशान से ऊपर बह रहा है। कई जिलों में निचली बस्तियों के जलमग्न होने की खबरें हैं, तो वहीं राजधानी भोपाल में भी भारी बारिश से तबाही जैसे हालात बने हुए हैं।

सीएम शिवराज सिंह

सोमवार से जारी भारी बारिश के चलते कलेक्टर ने मंगलवार को शासकीय और निजी स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी है। वहीं मौसम विभाग ने आगामी दिनों के लिए भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। राजधानी में रविवार शाम तक 6 इंच बारिश हो चुकी है।

कलेक्टर कार्यालय भोपाल

नर्मदा नदी का जलस्तर बढ़ा


भोपाल, होशंगाबाद और आस पास के क्षेत्रों में जारी बारिश के चलते नर्मदा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। अत्याधिक बारिश के चलते नसरुल्लागंज का छिदगांव काछी से संपर्क टूट गया है। वहीं,कोलार नदी के ब्रिज पर 15 फीट से अधिक पानी बह रहा है। जानकारी मिलने के बाद एसडीएम ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया। 

भोपाल-नागपुर नेशनल हाईवे 69 बन्द 
राजधानी भोपाल समेत इंदौर, नर्मदापुरम, जबलपुर, शिवपुरी, छतरपुर, शाजापुर, देवास, रीवा, कटनी, सतना, छिंदवाड़ा जिलों में भारी बारिश से हाल बेहाल है। नदी से लगे क्षेत्रों में निचली बस्तियां जलमग्न हो गई हैं। तो वहीं कई जगह रपटों के ऊपर से बह रहे नालों की वजह से आवागमन अवरुद्ध हो गया है। नर्मदापुरम जिले में नर्मदा नदी का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर 965 पर पहुंच गया है।

सीएम शिवराज सिंह ट्विटर

तवा नदी में भारी बारिश के चलते जलस्तर काफी बढ़ गया है, जिसके चलते तवा बांध के सभी 13 गेट खोलकर 8610 क्यूमेक पानी छोड़ा जा रहा है। सुखतवा नदी का जलस्तर बढ़ने से पानी अस्थाई ब्रिज के ऊपर से बह रहा है। यहां भारी बारिश होने पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। 

सीएम शिवराज सिंह ट्विटर

तवा डैम के सभी 13 गेट खोल दिए गए हैं। इससे पहले 10 गेट 12 फीट तक खोले गए थे। बारना के 8 में से 6 गेट खोलकर 1700 क्यूमेक पानी डिस्चार्ज किया जा रहा है। नर्मदा बेसिन में हो रही तेज बारिश के कारण नर्मदा नदी का जलस्तर और बढ़ने के आसार हैं। जिसे देखते हुए नर्मदापुरम, हरदा, नरसिंहपुर, देवास, रायसेन, सीहोर, बड़वानी ज़िलों में अलर्ट जारी किया गया है।

बराना नाला मे उफान से रास्ता बंद
छतरपुर जिले के बिजावर में भारी बारिश के चलते किशनगढ़ मार्ग पर पड़ने वाला बराना नाला उफान पर है, जिसके चलते आवागमन प्रभावित हो रहा है। वहीं, स्थिति को देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने ग्रामीणों से नाला पार न करने की अपील की है। प्रदेश में जारी भारी बारिश के चलते राष्ट्रीय राजमार्ग एक्सटेंशन 43, गुलगंज से कटनी मार्ग पर आवागमन प्रभावित है। बराना नाला पर रविवार से पानी ऊपर से बह रहा है। सोमवार रात तक भी नाला उफान पर था।

सीएम शिवराज सिंह ट्विटर

बिजावर जटाशंकर मार्ग पर श्यामरी नदी के पुल से कई सालों बाद पहली बार पानी ऊपर से बह रहा था, जिसके चलते यहां कई बड़े पेड़ धराशायी हो गए। वहीं, ग्राम खैरा कला में भारी बारिश के चलते प्राथमिक स्कूल भवन के पास बनी बाहरी दीवार गिर गई।

सीहोर कलेक्टर ने स्कूलों की छुट्टी की
सीहोर जिले में भारी बारिश को देखते हुए कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने जिले के सभी स्कूलों में दो दिनों का अवकाश घोषित किया है। जिले के स्कूल 16 और 17 अगस्त को बंद रहेंगे।

सीएम शिवराज सिंह ट्विटर

बीते 24 घंटे से जारी लगातार बारिश के कारण कई क्षेत्रों में जलभराव हो गया है, तो वहीं कई रास्ते भी बंद हैं। प्रशासन भारी बारिश को लेकर अलर्ट पर है। भारी बारिश के चलते कई बांध लबालब भर गए हैं।

छिंदवाड़ा में खेतों में भरा पानी

नर्मदा नदी

छिंदवाड़ा जिले में लगातार बारिश की वजह से आम जनजीवन प्रभावित हो रहा है। वहीं, खेतों में फसलें खराब होने से किसानों को नुकसान हो रहा है। भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण खेतों में लगी मक्के की फसल आड़ी हो गई है। जिले के सौंसर में सबसे ज्यादा बारिश दर्ज की गई। सौंसर में 1816.3 मिमी और चौरई में 816 मिमी वर्षा दर्ज की गई। वहीं, मोहखेड़ में 1506, बिछुआ में 1267 मिमी, पांढुरना में 1163 मिमी, हर्रई में 1139, छिंदवाड़ा में 1125 मिमी, जुन्नारदेव में 1089 मिमी सहित अन्य सभी विकासखंड में 800 मिमी से ज्यादा बारिश हो चुकी है। पिछले 24 घंटे के दौरान जिले में 57 मिमी बारिश दर्ज हुई।

भारी बारिश से दो मकान गिरे
भारी बारिश के चलते छिंदवाड़ा जिले के हर्रई क्षेत्र में बने दो कच्चे मकान ढह गए। सोमवार रात 4 बजे हर्रई विकासखंड के ग्राम साजवा में दो कच्चे मकान भारी बारिश का सामना नहीं कर सके और धराशायी हो गए। मकान गिरने से एक घर में बंधी बकरी की मौत हो गई। हालांकि किसी व्यक्ति के हताहत होने की खबर नहीं है। लेकिन घर में रखे सामान का नुकसान हुआ है।

बीते 24 घंटे में दर्ज की गई बारिश (मिली मीटर में)
रायसेन 168.0, पचमढ़ी 140.2, भोपाल सिटी 132.3, भोपाल 123.7, नर्मदापुरम 89.9, सागर 81.0, ग्वालियर 76.2, मंडला 71.2, नरसिंहपुर 67.0, गुना 64.3, जबलपुर 61.4, बैतूल 59.8, दमोह 57.0, रायसेन 54.0, उज्जैन 39.0, सिवनी 29.8, खंडवा 24.2, उमरिया 22.4, मलाजखंड 21.6, छिंदवाड़ा 19.6, नौगांव 19.3, धार 19.3, इंदौर 16.1, खरगौन 14.0, दतिया 12.2, सतना 11.0, रीवा 6.4, खजुराहो 6.0, सीधी 2.6, शिवपुरी 55.0 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई।

Edited By – Deshhit News

News
More stories
आज है Delhi CM अरविंद केजरीवाल का जन्मदिन, जन्माष्टमी के दिन जन्में थे केजरीवाल तो नाम पड़ा 'कृष्ण', जन्मदिन पर जानें उनके सफर की पूरी कहानी