Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

JNU Controversy: रामनवमी में नॉनवेज को लेकर हुआ विवाद, छात्रों के दो गुटों में हुई हिंसक झड़प

11 Apr, 2022
Employee
Share on :

दिल्ली के जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय में रविवार को रामनवमी के मौके पर कावेरी होस्टल में लेफ्ट विंग के लोग नॉनवेज खा रहे थे तभी वहां पर कुछ अज्ञात लोग आ गए और उन्होंने जेएनयू के विद्यार्थियों के साथ हाथाफाई की जिसके कारण कई विद्यार्थियों को काफी गंभीर चोट आई है.

नई दिल्ली: दिल्ली के जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय में रविवार को रामनवमी के मौके पर कावेरी होस्टल में लेफ्ट विंग के लोग नॉनवेज खा रहे थे तभी वहां पर कुछ अज्ञात लोग आ गए और उन्होंने जेएनयू के विद्यार्थियों के साथ हाथाफाई की जिसके कारण कई विद्यार्थी को काफी गंभीर चोट भी आई है. माना जा रहा है कि अभी कुछ दिनों पहले ही एबीवीपी संगठन से जुड़े विद्यार्थियों ने जेएनयू में नवरात्रि के मौके पर हवन और पूजा करवाई थी, अब जेएनयू में जब नॉनवेज की खबर सामने आई तो कहा जा रहा है कि इस हिंसा का कारण अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के लोग ही हैं.

जेएनयू में हिंसक झड़प, कई विद्यार्थियों को आई चोट, एबीवीपी के लोगों पर लगे आरोप

और यह भी पढ़ें- Delhi FIRE News: दिल्ली में एक ही दिन में लगी 2 जगह आग, मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने पाया काबू

जब उन अज्ञात लोगों ने जेएनयू विद्यार्थियों को पीटा तो थोड़ी हाथाफाई लेफ्ट विंग की तरफ से हुई जिसके कारण दो छात्र गुटों के बीच हिंसक झड़प हो गई. बाद में मामले ने तूल पकड़ लिया तो इसकी सूचना प्रशासन और दिल्ली पुलिस दी गई और साथ ही एफआईआर दर्ज भी कराई गई. जानकारी है कि स्टूडेंट यूनियन जेएनयूएसयू, एसएफआई, डीएसएफ और आइसा की तड़के मिली शिकायत पर एबीवीपी से जुड़े अज्ञात छात्रों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 323/ 341/509/ 506/ 34 के तहत केस दर्ज किया है. दिल्ली पुलिस का कहना है कि एबीवीपी के छात्रों की तरफ से शिकायत भी जल्द मिल जाएगी. उनकी शिकायत पर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

खबरों के अनुसार झड़प एबीवीपी और लेफ्ट संगठनों से जुड़े छात्रों के बीच हुई है. जिसके कारण कई छात्र घायल हुए हैं. झड़प के बाद दोनों छात्र संगठनों के बीच अब आरोप-प्रत्यारोप चल रहे है जहाँ एक तरफ लेफ्ट ने एबीवीपी के ऊपर रामनवमी के अवसर पर यूनिवर्सिटी के कावेरी हॉस्टल में छात्रों को नॉनवेज ना खाने देने का आरोप लगाया, वहीं एबीवीपी की तरफ से कहा गया कि लेफ्ट के छात्रों ने रामनवमी की पूजा नहीं करने दी.

जेएनयू के कई विद्यार्थियों के साथ मारपीट, हालात गंभीर

इस विवाद ने तूल तब पकड़ा जब जेएनयू छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष एन. साई. बालाजी ने अपने ट्विटर हैंडल से  ट्वीट कर दावा किया कि एबीवीपी  के लोग कावेरी हॉस्टल में छात्रों को नॉनवेज खाने से रोक रहे हैं. इसके बाद शाम होते-होते हिंसक झड़प की खबर सामने आ गई. साई बालाजी ने ट्विटर पर लिखा था कि कावेरी हॉस्टल में एबीवीपी के गुंडों ने छात्रों को नॉनवेज खाने से रोका. क्या जेएनयू की वीसी इस गुंडागर्दी की निंदा करेंगी? क्या अब छात्रों का खानपान भी तय  होगा? मेस के सचिव को भी पीटा गया, इस बर्बरता के खिलाफ खड़े होने का वक्त आ गया है. भारत की धर्मनिरपेक्ष सोच पर हमला हो रहा है.

जेएनयू छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष एन. साई. बालाजी का ट्विट

दोनों ही छात्र संगठनों के पक्षों ने एक दूसरे पर पथराव करने और अपने-अपने सदस्यों के घायल होने का आरोप लगाया है. जैसे ही कावेरी होस्टल की हिंसा जेएनयू कैंपस में फैली तो वहां पर भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया. फिलहाल कैंपस में हालात नियंत्रण में है, लेकिन दोनों गुटों के छात्रों की ओर से प्रदर्शन और एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप के चलते माहौल गर्म है.

जेएनयू में हिंसक वारदात के बाद भारी संख्या में पुलिस बल तैनात
News
More stories
नमो एप के माध्यम से सहयोग राशि देकर भाजपा को सशक्त बनाए : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी