Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

यूपी में परिवार के 5 लोगों की घर में हत्या, दो साल की बच्ची को भी नही बख्शा

23 Apr, 2022
Employee
Share on :

पुलिस ने कहा कि घर में एक और 5 साल की बच्ची थी जिसकी जान बच गयी है। जिलाधिकारी ने हत्या की वजह को लेकर बताया की अब तक दुश्मनी का कोई एंगल सामने नहीं आया है।

प्रयागराज: उत्तर प्रदेश में एक बार फिरसे दिल देहला देने वाली घटना सामने आई है. राज्य के प्रयागराज जिले में दो साल की बच्ची सहित एक ही परिवार के पांच सदस्यों की आज सुबह उनके घर पर हत्या कर दी गई। ख्वाजपुर क्षेत्र में हुए इस दर्दनाक घटना के पीड़ितों में राम कुमार यादव (55), उनकी पत्नी कुसुम देवी (52), बेटी मनीषा (25), बहू सविता (27) और पोती मीनाक्षी (2) शामिल हैं।

पुलिस ने कहा कि घर में एक और 5 साल की बच्ची थी जिसकी जान बच गयी है. अधिकारियों ने कहा कि यादव का बेटा सुनील (30), जो अपराध के समय घर पर नहीं था, जांच में सहायता कर रहा है। वहीं, वरिष्ठ पुलिस अधिकारी अजय कुमार ने कहा कि शवों पर चोट के निशान बताते हैं कि सभी पांच लोगों के सिर पर हमला किया गया है। अधिकारी ने कहा कि शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और इस भीषण अपराध की जांच के लिए सात टीमों का गठन किया गया है।

इसके अलावा डॉग स्क्वायड और फोरेंसिक विशेषज्ञ भी सुराग जुटाने के लिए मौके पर पहुंच गए हैं, जिससे हत्यारों का पता चल सके। घटना के बाद मौके पर पहुंचे जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने पूरी घटना की जानकारी देते हुए बताया कि यादव के घर में आग लगने के बाद स्थानीय लोगों ने अलार्म बजाया। और पुलिस को आग लगने की सुचना दी। जैसे ही पुलिस और अग्निशमन दल घटनास्थल पहुंचे, यादव और अन्य लोगों के शव घर में पाए गए। जहाँ छोटी बच्ची मीनाक्षी और उसकी मां सविता के शव उस कमरे के पास थे जहां आग लगी थी वहीं यादव और उनकी पत्नी चारपाई पर थे और उस वक्त उनकी सांसे चल रही थी। वहीं दूसरी और उनकी बेटी मनीषा का शव मिला।

हालाँकि, जिलाधिकारी ने हत्या की वजह को लेकर बताया की अब तक दुश्मनी का कोई एंगल सामने नहीं आया है। वहीं, पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को स्थानीय निवासियों के आक्रोश का सामना करना पड़ा जो मामले में तुरंत कार्रवाई की मांग क्र रहे थे। विजुअल्स में जहाँ मृतकों के रिश्तेदारों और पड़ोसियों को रोते बिलखते देखा जा सकता है वहीं अधिकारियों को उनकी बात सुनते हुए और उन्हें आश्वस्त करते हुए पाया गया।

इसे भी पढ़ेंKushinagar Murder: भाजपा की जीत पर बांटे लड्डू, तो कर दी बाबर की हत्या, दिए जांच के आदेश

मालूम हो, इससे पहले जिले के खगलपुर गांव में ठीक एक हफ्ते पहले, 16 अप्रैल को, एक भयानक अपराध हुआ था जिसमें 38 वर्षीय महिला समेत उसकी तीन बेटियों की गला रेतकर हत्या कर दी गई थी। हालाँकि, पुलिस ख्वाजपुर में हुए आज के हमले का सच पता करने में जुटी हुयी है।

News
More stories
सरकार टीवी चैनलों पर सख्त, यूक्रेन युद्ध और हिंसा पर टेलिविजन नेटवर्क 1995 एक्ट के निर्देशों का करें पालन