Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

Ghaziabad: कांवड़ यात्रा के मार्ग में मीट की दुकानें बंद करने का आदेश, होटल खोलने की इजाजत भी नहीं

16 Jul, 2022
Head office
Share on :

कांवड़ यात्रा में सुरक्षा के लिए पूरे राज्य में 151 कंपनी पीएसी और 11 कंपनी केंद्रीय पुलिस बल की तैनाती की गई है और एटीएस और एंटी सैबोटॉज टीम के साथ बम निरोधक दस्ते को भी तैनात किया गया है.इसके साथ ही 314 स्थानों पर सावन के मौके पर लगने वाले मेले के लिए भी सुरक्षा चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए गए हैं.

गाज़ियाबाद: सावन का महीना आते ही उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा का सिलसिला एक बार फिर शुरू हो गया है, जिसके लिए राज्य सरकार की तरफ से सुरक्षा के भी पुख्ता इंतजाम किए गए हैं.आपको बता दे कि मेरठ और वाराणसी ज़ोन में सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बलों की तैनाती की गई है. कोरोना के चलते कवाड यात्रा दो साल तक नहीं निकली गई थी लेकिन इस बार सरकार ने दो साल के बाद कावडिय़ों को कांवड़ निकालने की अनुमति दे दी हैं.गाजियाबाद डीएम राकेश कुमार सिंह ने शनिवार को कांवड़ यात्रा को लेकर एक बड़ा फैसला लिया हैं और डीएम ने आदेश दिया हैं कि मुख्य कांवड़ मार्ग पर पड़ने वाली सभी मीट की दुकानें और मीट परोसने वाले होटल बंद रहेंगे.उन्होंने 18 जुलाई से 27 जुलाई तक कांवड़ मार्ग,दूधेश्वरनाथ मंदिर और मंदिरों के 500 मीटर के दायरे में सभी मीट की दुकानें बंद रखने को कहा है.डीएम राकेश कुमार सिंह ने धारा 144 के तहत यह आदेश दिया है. 
दो साल के बाद कावडिय़ों को कांवड़ निकालने की मिली अनुमति

और यह भी पढ़े – Lucknow Lulu Mall: लखनऊ के Lulu मॉल के बाहर एक बार से हुआ बवाल, 15 लोग हिरासत में, हनुमान चालीसा पाठ के लिए पहुंचे थे.

कांवड़ यात्रा के दौरान पुरे राज्य में की गई कड़ी सुरक्षा के इंतजाम

कांवड़ यात्रा में सुरक्षा के लिए पूरे राज्य में 151 कंपनी पीएसी और 11 कंपनी केंद्रीय पुलिस बल की तैनाती की गई है. मेरठ वाराणसी कमिश्नरेट के लिए अतिरिक्त पुलिस बल के साथ 13 एडिशनल एसपी, 30 डिप्टी एसपी, 309 इंस्पेक्टर/सब इंस्पेक्टर, 1250 कॉन्स्टेबल/हेड कॉन्स्टेबल और 132 ट्रैफिक पुलिस कर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है.

सुरक्षा चाक-चौबंद के लिए एटीएस और बम स्क्वॉड भी तैनात किए गए

एटीएस और एंटी सैबोटॉज टीम के साथ बम निरोधक दस्ते को भी तैनात किया गया है. और पूरे प्रदेश में 12356 किलोमीटर लंबे 840 कांवड़ मार्ग को चिह्नित किया गया है जहां 4556 शिवालय हैं जहां लोग जलाभिषेक करेंगे. 314 स्थानों पर सावन के मौके पर लगने वाले मेले के लिए भी सुरक्षा चाक-चौबंद रखने के निर्देश दिए गए हैं.

314 स्थानों पर सावन के मौके पर सुरक्षा चाक-चौबंद रखने के निर्देश

प्रदेश में 927 संवेदनशील जगहों की पहचान हुई

राज्य भर में 927 संवेदनशील स्थानों को चिह्नित कर सुरक्षा व्यवस्था के विशेष खास इंतजाम किए गए हैं. 1917 सेक्टर में 1195 पुलिस की QRT टीम तैनात रहेगी. इस कांवड़ यात्रा मार्ग के आसपास शराब और मीट की दुकानों, मीट के परिवहन और मृत जानवरों के लाने-ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा. अराजक तत्वों पर नजर रखने के लिए यातायात कर्मियों को ब्रेथ एनालाइजर दिया जाएगा ताकि नशे में गाड़ी चलाने वाले लोगों को भी चिह्नित किया जा सके.

Edited by – Deshhit News

News
More stories
Lucknow Lulu Mall: लखनऊ के Lulu मॉल के बाहर एक बार से हुआ बवाल, 15 लोग हिरासत में, हनुमान चालीसा पाठ के लिए पहुंचे थे.