Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने PM आदर्श ग्राम योजना केअन्तर्गत चयन ग्रामों का जायजा लिया।

15 Mar, 2022
Employee
Share on :

हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय की अध्यक्षता में मंगलवार को कलक्ट्रेट सभागार में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के क्रियान्वयन के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक आयोजित हुई।
बैठक में जिलाधिकारी को समाज कल्याण अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत पूर्व में दस गांवों का चयन किया गया था। इसके बाद दस और गांवों का चयन इस योजना के अन्तर्गत किया गया है। उन्होंने जिलाधिकारी को प्रधानमंत्री आदर्श गांवों में बुनियादी सुविधा उपलब्ध कराये जाने के सम्बन्ध में अब तक कितनी प्रगति हुई है, के सम्बन्ध में बताया।
बैठक में विनय शंकर पाण्डेय ने अधिकारियों से प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अन्तर्गत चयनित गांवों में पीने के पानी के बारे में पूछा तो जल संस्थान के अधिकारियों ने बताया कि टेण्डर हो चुका है तथा आगामी 24 मार्च को टेण्डर खुल जायेगा। इसके पश्चात कार्य प्रारम्भ कर दिया जायेगा।
जिलाधिकारी ने बैठक में प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में चयनित गांवों में शौचालय, आंगनबाड़ी केन्द्र आदि बुनियादी सुविधाओं के बारे में अधिकारियों से विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने इन गांवों में बुनियादी सुविधायें उपलब्ध कराने में धीमी प्रगति पर नाराजगी प्रकट की। उन्होंने सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारियों को धरातल पर वास्तविक स्थिति क्या है, के सम्बन्ध में एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 सौरभ गहरवार, परियोजना निदेशक विक्रम सिंह, जिला विकास अधिकारी वेद प्रकाश, समाज कल्याण अधिकारी टी0आर0 मलेठा, लीड बैंक मैनेजर संजय सन्त, खण्ड विकास अधिकारीगण सहित विभिन्न विभागों के सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे।

News
More stories
क्या है केमिकल और बायोलॉजिकल हथियार, क्यों लग रहे हैं रूस पर आरोप की वह यूक्रेन पर केमिकल हथियार का इस्तमाल कर सकता है?