Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

Acharya Movie Review: चिरंजीवी और राम चरण की इस फिल्म में क्या है खास, यहाँ जाने

29 Apr, 2022
Employee
Share on :

मेगास्टार चिरंजीवी ने दी गई भूमिका में यथासंभव स्वाभाविक होने की कोशिश की है लेकिन फिल्म के पहले भाग में चिरंजीवी के हिस्से नींद लाने वाले हैं।

अपने लॉन्च के बाद से ही “आचार्य” मेगा प्रशंसकों और फिल्म प्रेमियों के बीच प्रचार का हिस्सा बना हुआ है। हालांकि महामारी के कारण फिल्म में देरी जरुर हुई लेकिन चिरंजीवी और सफल निर्देशक कोराताला शिवा के पहले कोलैब के वजह से फिल्म दर्शको के बिच रुचि बनाए रखने में सफल रही. इसके अलावा, फिल्म में मेगास्टार चिरंजीवी के साथ राम चरण भी हैं।

बात फिल्म की कहानी की करें तो वही घिसी पिटी कहानी जो साउथ के कई फिल्मों में हमने पहले ही देख रखा है. जिसमें एक गाँव के जमीन को कोई बिजनसमैन हड़पना चाहता है और हीरो उसकी रक्षा करता है. चिरंजीवी, फिल्म में एक नक्सली नेता का किरदार निभा रहे हैं जिसके उस गाँव में कदम रखते ही चीजें ठीक होने लगती है।

वह इस जगह पर क्यों आया? उसका असली मकसद क्या है? और इस क्षेत्र में गुरुकुल चलाने वाले सिद्ध जसका किरदार राम चरण ने निभाया है उससे उसका क्या संबंध है ये तो आपको फिल्म देखने पर ही पता लगेगा. हालाँकि फिल्म के कलाकारों के प्रदर्शन की बात करे तो मेगास्टार चिरंजीवी ने दी गई भूमिका में यथासंभव स्वाभाविक होने की कोशिश की है लेकिन फिल्म के पहले भाग में चिरंजीवी के हिस्से नींद लाने वाले हैं। हालांकि, उन्होंने एक्शन सीन्स को बखूबी निभाया है वहीं राम चरण के साथ उनका डांस भी काफी मजेदार है।

इसे भी पढ़े डॉक्टर अर्चना सुसाइड केस: दौसा के गैरजिम्मेदार एसपी अनिल कुमार पर चले हत्या का केस, डॉक्टरों की डिमांड

जहाँ, राम चरण इस फिल्म का बेस्ट पार्ट शाबित हुए हैं और उनके सीन्स फिल्म में अपनी छाप छोड़ देती है वहीं उनकी प्रेमिका के रूप में पूजा हेगड़े का किरदार भी ठीक है। हालाँकि, सोनू सूद इसबार कुछ नया करते नजर नही आयें. उनको पहले भी ऐसे किरदार में देखा जा चूका है। महेश बाबू का वॉयसओवर भी कहानी में कोई मूल्य नहीं जोड़ता है।

बात टेक्निकल चीजो की करें तो फिल्म में एक शानदार प्रोडक्शन डिजाइन है। करोड़ों रुपये का भव्य मंदिर सेट है। वहीं, सिनेमैटोग्राफी और प्रोडक्शन डिजाइन इस फिल्म का मुख्य आकर्षण है। हालांकि मणि शर्मा ने फिल्म में’ आकर्षक गाने दिए हैं, लेकिन चिरंजीवी और राम चरण के ऊर्जावान डांस स्टेप्स की बदौलत केवल “भले भले बंजारा” ने ही पर्दे पर जलवा बिखेरने का काम किया है।

कुल मिलाकर देखें तो फिल्म कुछ खास नी है लेकिन चिरंजीवी और रामचरण के फैंस अपने पसंदीदा कलाकार को देखने के लिए थिएटर का रूख कर सकते हैं.

News
More stories
भारत में लगभग हर साल गर्मी को लेकर क्यों टूटते है रिकॉर्ड, आईये जानते है मौसम विभाग सम्बंधित जानकारी