Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

दिल्ली पुलिस ने Paytm के फाउंडर विजय शेखर शर्मा को रैश ड्राइविंग करने के आरोप में किया गिरफ्तार

13 Mar, 2022
Employee
Share on :
paytm Founder Vijay Shankar Sharma

South Delhi की डीसीपी की गाड़ी को टक्कर मारने के आरोप में पेटीएम फाउंडर विजय शेखर शर्मा गिरफ्तार, जाने आखिर किस वजह से उन्हें delhi पुलिस ने किया गिरफ्तार

Paytm फाउंडर विजय शेखर शर्मा

नई दिल्ली: Paytm के फाउंडर विजय शेखर शर्मा को लेकर अब एक बड़ी खबर सामने आ रही है. बता दें कि विजय शेखर शर्मा को दिल्ली पुलिस ने एक कार को टक्कर मारने के आरोप में गिरफ्तार किया था. हालांकि उन्हें बाद में जमानत दे दी गई थी. बता दें कि ये घटना बीते महीने 22 फरवरी को हुई थी

ANI Tweet

दरअसल, मदर इंटरनेशनल स्कूल के सामने Paytm के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने अपनी  जगुआर लैंड रोवर कार से दक्षिणी दिल्ली की DCP बेनिता मेरी जैकर की कार को तेज रफ्तार में टक्कर मार दी थी. इसी आरोप में उन्हें गिरफ्तार किया गया था.

arbindo marg delhi

दिल्ली पुलिस ने पेटीएम के फाउंडर (Paytm Founder) विजय शंकर शर्मा (Vijay Shankar Sharma) को रैश ड्राइविंग करने के आरोप में  22 फरवरी को  गिरफ्तार (Arrest) कर लिया था. हालांकि बाद में उन्हें जमानत दे दी गयी थी. दरअसल मदर इंटरनेशनल स्कूल के सामने शर्मा ने अपनी जगुआर लैंड रोवर कार से दक्षिणी दिल्ली की डीसीपी बेनिता मेरी जेकर की कार को तेज रफ्तार में टक्कर मार दी थी. उस वक्त डीसीपी का ड्राइवर दीपक अरविंदो मार्ग पर पेट्रोल भरवाने गया था. टक्कर मारने के बाद शर्मा अपनी कार से भाग गए थे. 

अरविंदो मार्ग पर पेट्रोल भरवाने गया था

बाद में, दीपक ने कार का नम्बर नोट कर पूरी बात डीसीपी को बताई. डीसीपी के कहने पर दीपक ने मालवीय नगर थाने में आईपीसी 279 के तहत केस दर्ज कराया. कार का नम्बर गुरुग्राम की एक कंपनी का निकला. कंपनी के लोगों ने बताया कि कार्य के 2 में रहने वाले विजय शंकर शर्मा के पास है. उसके बाद विजय शंकर शर्मा को थाने बुलाकर गिरफ्तार कर लिया गया. फिर उन्हें जमानत दे दी गई क्योंकि ये जमानती सेक्शन था. 

विजय शंकर शर्मा

दिल्ली पुलिस की प्रवक्ता सुमन नलवा ने पुष्टि की कि पुलिस ने विजय शेखर शर्मा को तेज गति या लापरवाही से गाड़ी चलाने के मामले में गिरफ्तार किया था और बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया. इस सप्ताह की शुरुआत में, भारतीय रिजर्व बैंक ने विजय शेखर शर्मा- प्रवर्तित पेटीएम पेमेंट्स बैंक को बैंक में देखी गई “सामग्री पर्यवेक्षी चिंताओं” के बीच नए खाते खोलने से रोकने के लिए कहा. 

भारतीय रिजर्व बैंक
News
More stories
गोकुलपुरी की झुग्गी-झोपड़ी में लगी आग, मुख्यमंत्री केजरीवाल ने किया मृतक परिवारों वालो को आर्थिक मदद देने का एलान