प्रदेश के पर्वतीय जिलों में बारिश और बिजली चमकने का येलो अलर्ट जारी

03 Apr, 2024
Head office
Share on :

देहरादून: पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के कारण प्रदेश के पर्वतीय जिलों में बारिश और बिजली चमकने का येलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार, 3 अप्रैल से 5 अप्रैल तक उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, अल्मोड़ा और बागेश्वर जिलों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। इन जिलों में बिजली चमकने के साथ-साथ 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का भी अनुमान है।

मैदानी इलाकों में भी मौसम का मिजाज बदला हुआ है। हल्की बारिश और बादल छाए रहने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। मंगलवार को दून का अधिकतम तापमान 31.1 डिग्री सेल्सियस रहा, जो कि सामान्य से एक डिग्री कम है। अन्य जिलों में भी तापमान में गिरावट दर्ज की गई है।

मौसम विभाग ने लोगों को सलाह दी है कि वे आगामी दिनों में सावधानी बरतें। पर्वतीय क्षेत्रों में यात्रा करने वाले लोगों को विशेष रूप से सतर्क रहने की आवश्यकता है। यदि आपको बिजली गिरने का खतरा महसूस हो तो तुरंत सुरक्षित स्थान पर आश्रय लें।

पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश और बिजली गिरने से जान-माल का नुकसान होने की संभावना रहती है। पिछले साल भी इन क्षेत्रों में भारी बारिश और बाढ़ के कारण भारी तबाही हुई थी। राज्य सरकार ने लोगों को सलाह दी है कि वे मौसम विभाग की चेतावनी का पालन करें और सुरक्षित रहें।

मुख्य बिंदु:

पर्वतीय जिलों में बारिश और बिजली चमकने का येलो अलर्ट जारी

मैदानी इलाकों में भी मौसम का मिजाज बदला हुआ

तापमान में गिरावट दर्ज

लोगों को सलाह दी गई है कि वे सावधानी बरतें

विश्लेषण:

पर्वतीय जिलों में बारिश और बिजली गिरने का खतरा बढ़ गया है।

लोगों को सलाह दी गई है कि वे सावधानी बरतें और सुरक्षित रहें।

निष्कर्ष:

आगामी दिनों में पर्वतीय क्षेत्रों में यात्रा करने से बचें।

मौसम विभाग की चेतावनी का पालन करें।

यदि आपको कोई स्वास्थ्य संबंधी समस्या है तो कृपया डॉक्टर से सलाह लें।

Tags : पर्वतीय जिले , बारिश , बिजली चमकना , येलो अलर्ट , मैदानी इलाके , मौसम , तापमान

Deepa Rawat

News
More stories
जनहित दल ने किया घोषणा पत्र के साथ अपनी पार्टी को लॉन्च, घोटालेबाजों को सत्ता की कुर्सी से हटाना इनका है मुख्य उद्देश्य
%d bloggers like this: