Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

फेक न्यूज पर बोले PM मोदी, चिंताजाहिर करते हुए कहा- बिना फैक्ट चेक किए मैसेज आगे न बढ़ाएं, क्योंकि…

28 Oct, 2022
Employee
Share on :
Pm modi On fake news

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फेक न्यूज को लेकर चिंता जाहिर की है. पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्यों के गृह मंत्रियों के चिंतन शिविर को वर्चुअली संबोधित करते हुए कहा कि फेक न्यूज को फॉरवर्ड करने से पहले उसके फैक्ट चेक करने चाहिए. उन्होंने कहा कि एक फेक न्यूज देश में बड़ा बवाल करा सकती है.

नई दिल्ली: हरियाणा के सूरजकुंड में आयोजित राज्यों के सभी गृह मंत्रियों की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोशल मीडिया के इस दौर में फेक न्यूज से लड़ने का मंत्र दिया. चिंतन शिविर के दूसरे दिन अपने संबोधन में पीएम मोदी ने फेक न्यूज पर चिंता जाहिर की और कहा कि कोई भी छोटी सी गलती या फेक न्यूज बड़ा बवाल खड़ा कर सकती है. इसलिए यह जरूरी है कि कोई भी मैसेज फॉरवर्ड (संदेश आगे बढ़ाना) करने से पहले उसके फैक्ट चेक जरूर किए जाएं. उन्होंने लोगों से फेक न्यूज को शेयर नहीं करने की भी अपील की.

Haryana Pm modi Chintan Shivir

गृह मंत्रियों के चिंतन शिविर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा, ‘सोशल मीडिया की शक्ति को हमें कम आंकने की जरूरत नहीं है. एक छोटी सी फेक न्यूज पूरे देश में बड़ा बवाल खड़ा कर सकती है. हमें मालूम है कि आरक्षण की एक अफवाह फैल गई, फेक न्यूज चल दिया, जिससे देश को काफी नुकसान झेलना पड़ा था. इसलिए लोगों को हमें एजुकेट (शिक्षित) करते रहना पड़ेगा कि कोई भी चीज आती है तो उसको फॉरवर्ड करने से पहले 10 बार सोचें, कोई भी चीज आती है तो उसे मानने से पहले वेरीफाई करें.’

Pm Modi On Fake News

उन्होंने कहा कि सारे प्लेटफॉर्म पर वेरीफाई करने की व्यवस्था होती है. आपको फैक्ट चेक करने के लिए कुछ सोशल मीडिया पर चक्कर लगाने पड़ेंगे. उन्होंने कहा कि फेक न्यूज की फैक्ट चेक जरूरी है. इसमें टेक्नोलॉजी की बड़ी भूमिका होती है. संदेशों को फॉरवर्ड करने से पहले उन्हें सत्यापित करने के लिए लोगों को तंत्र से अवगत कराया जाना चाहिए. बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने आंतरिक सुरक्षा के लिए सभी राज्यों से एक साथ मिलकर काम करने पर जोर देते हुए शुक्रवार को कहा कि कानून एवं व्यवस्था का सीधा संबंध विकास से है, अत: शांति बनाए रखना हर किसी की जिम्मेदारी है.

Haryana Pm modi Chintan Shivir

केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से सभी राज्यों के गृह मंत्रियों के लिए आयोजित दो दिवसीय ‘चिंतन शिविर’ को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि प्रत्येक राज्य को एक-दूसरे से सीखना चाहिए, प्रेरणा लेनी चाहिए और आंतरिक सुरक्षा के लिए एक साथ मिलकर काम करना चाहिए. पीएम मोदी ने कहा, ‘आंतरिक सुरक्षा के लिए राज्यों का एक साथ मिलकर काम करना संवैधानिक आदेश के साथ ही देश के प्रति जिम्मेदारी भी है. सभी एजेंसियों को कार्य क्षमता, बेहतर परिणाम और आम आदमी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए एक-दूसरे के साथ सहयोग करना चाहिए.’

Haryana Pm modi Chintan Shivir

उन्होंने कहा कि कानून एवं व्यवस्था की स्थिति संविधान के अनुसार राज्य का विषय हैं, हालांकि वह देश की एकता एवं अखंडता से समान रूप से संबद्ध है. प्रधानमंत्री ने पुलिस के लिए ‘‘एक राष्ट्र, एक वर्दी’’ का विचार रखते हुए कहा कि इसे थोपना नहीं चाहिए बल्कि इस पर विचार करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस के बारे में अच्छी धारणा बनाए रखना महत्वपूर्ण है. पीएम मोदी ने राज्यों से आजादी से पहले बनाए कानूनों की समीक्षा करने तथा मौजूदा संदर्भ में उनमें संशोधन करने के लिए भी कहा. दो दिवसीय चिंतन शिविर का उद्देश्य ‘विजन 2047’ और ‘पंच प्रण’ पर अमल के लिए एक कार्य योजना बनाना है, जिसका एलान प्रधानमंत्री मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में किया था.

Edited By Deshhit News

News
More stories
अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी से नोट पर माँ लक्ष्मी और गणेश जी की तस्वीर छापने की मांग की, कहा- जब मुस्लिम देश इंडोनेशिया कर सकता है तो हम भी कर सकते हैं