Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

जी 20 सम्मेलन के लिए पीएम मोदी इंडोनेशिया हुए रवाना, ब्रिटिश पीएम सुनक और प्रधानमंत्री की हो सकती है मुलाकात

14 Nov, 2022
देशहित
Share on :

जी-20 सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ब्रिटेन के पीएम ऋषि सुनक के साथ मुलाकात हो सकती है। पिछले महीने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने के बाद ऋषि सुनक की मोदी के साथ पहली बैठक होगी।

नई दिल्ली: पीएम मोदी आज इंडोनेशिया के लिए रवाना होंगे। वहां वह शुरू होने जा रहे जी20 शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे। पीएम मोदी 14 से 16 नवंबर तक बाली में रहेंगे। जी-20 शिखर सम्मेलन 15-16 नवंबर को है। करीब 45 घंटे के अपने प्रवास के दौरान पीएम मोदी 20 कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे। इस शिखर सम्मेलन के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी और अन्य G20 नेता वैश्विक अर्थव्यवस्था, ऊर्जा, पर्यावरण, कृषि, स्वास्थ्य और डिजिटल परिवर्तन आदि की स्थिति सहित सभी प्रमुख मुद्दों पर व्यापक विचार-विमर्श करेंगे।

ये भी पढ़े: क्या गिरफ्तार होंगी भोजपुरी एक्ट्रेस अक्षरा सिंह ? क्या है पूरा मामला ? जानते हैं….

जी-20 सम्मेलन में ये देश होंगे शामिल

जी-20, 19 देशों के साथ एक यूरोपियन यूनियन का समूह है। इन समूह में वो देश शामिल हैं, जो अर्थव्यवस्था के मामले में दुनिया में टॉप पर हैं। अगर इन 20 देशों की बात करें तो इनमें फ्रांस,  इंडोनेशिया, इटली, कोरिया, जर्मनी, इंडिया, मेक्सिको, ऑस्‍ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, रुस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, अर्जेंटीना, तुर्की, युनाइटेड किंगडम, जापान, अमेरिका और यूरोपीय यूनियन शामिल हैं। हर साल इन देशों का एक सम्मेलन या समिट होती है, जिसमें अलग अलग देशों को टॉप लीडर्स प्रधानमंत्री, वित्त मंत्री आदि शामिल होते हैं। इसमें मंत्री स्तर की बैठकों में गर्वनर, मंत्री आदि हिस्सा लेते हैं।

जी 20 सम्मेलन में इन मुद्दों पर होगी चर्चा

बाली शिखर सम्मेलन के दौरान, पीएम मोदी और अन्य जी-20 नेता वैश्विक अर्थव्यवस्था, ऊर्जा, पर्यावरण, कृषि, स्वास्थ्य और डिजिटल परिवर्तन समेत कई मुद्दों पर विचार-विमर्श करेंगे। शिखर सम्मेलन के दौरान तीन वर्किंग सेशन होंगे, जिसमें प्रधानमंत्री प्रतिभाग करेंगे। इनमें खाद्य और ऊर्जा सुरक्षा, डिजिटल परिवर्तन और स्वास्थ्य जैसे मुद्दे शामिल हैं।

सम्मेलन में पीएम मोदी और ब्रिटिश पीएम सुनक की हो सकती है मुलाकात 

G-20 शिखर सम्मेलन के दौरान ब्रिटिश प्रधानमंत्री ऋषि सुनक से मिलेंगे पीएम  मोदी, FTA पर बन सकती है सहमति - Aamaadmi Patrika
PM MODI AND UK PM RISHI SUNAK

जी-20 सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ब्रिटेन के पीएम ऋषि सुनक के साथ मुलाकात हो सकती है। पिछले महीने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने के बाद ऋषि सुनक की मोदी के साथ पहली बैठक होगी। बाली के लिए रवाना होने से पहले सुनक ने एक बयान में कहा कि व्लादिमिर पुतिन के युद्ध ने दुनियाभर में तबाही मचाई है और जीवन को नष्ट किया है। अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था को उथल-पुथल में डाल दिया है। 

जी-20 संगठन का अगला अध्यक्ष भारत

क्या है जी20 समिट जिसकी अध्यक्षता भारत करेगा और इसका काम क्या है? | TV9  Bharatvarsh
File Photo

जी-20 संगठन का अगला अध्यक्ष भारत है और इसकी अगली बैठक सितंबर, 2023 में नई दिल्ली में ही होने वाली है। इस नजरिए से भी पीएम मोदी का दौरा अहम माना जा रहा है। विदेश सचिव विनय क्वात्रा ने बताया कि शिखर सम्मेलन तीन सत्रों में होगा और पीएम मोदी इन तीनों सत्रों में दूसरे वैश्विक नेताओं के साथ हिस्सा लेंगे।

क्या है जी 20 सम्मेलन?

G-20 conference India 2022-23 bhopal indore know how G-20 shikar sammelan  stmp | MP के इन दो शहरों में होगा G-20 शिखर सम्मेलन, जानिए क्या होता है यह  आयोजन | Hindi News, Madhya Pradesh
File Photo

बता दें कि इस मंच का अहम काम आर्थिक सहयोग है, जिसमें शामिल होने वाले देशों की कुल जीडीपी दुनिया भर के देशों की 80 फीसदी है। ये देश मिलकर ना सिर्फ ग्लोबल इकोनॉमी पर काम करते हैं, बल्कि आर्थिक स्थिरता और जलवायु परिवर्तन और हेल्थ से जुड़े मुद्दों पर भी बात करते हैं। अहम उद्देश्य ये है कि आर्थिक स्थिति को कंट्रोल रखना है।

Edit by Deshhit News

News
More stories
धर्म के सवालों में घिरे दृष्टि IAS वाले प्रोफ़ेसर डॉ विकास दिव्यकीर्ति, जानिए क्या है पूरा मसला और क्या है उनकी सफाई ?