Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

प्रधानमंत्री ने नई दिल्ली में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के लिए विदाई रात्रिभोज का आयोजन किया I

23 Jul, 2022
Head office
Share on :
नई दिल्ली : देश की नवनिर्वाचित राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 25 जुलाई यानी रविवार को राष्‍ट्रपति पद की शपथ लेंगी। वही शुक्रवार को निर्वतमान राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद की विदाई में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात्रि भोज आयोजि‍त किया। इस अवसर पर कई पद्म पुरस्कार विजेता और कई आदिवासी नेता मौजूद थे। इस मौके पर फर्स्ट लेडी सविता कोविंद भी मौजूद थीं। गौरतलब है कि निवर्तमान राष्ट्रपति का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। निर्वाचित राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 25 जुलाई को संसद के सेंट्रल हाल में भारत के 15वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेंगी। भारत के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना मुर्मू को शपथ दिलाएंगे।

"प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत ने इतिहास रच दिया है क्योंकि पूर्वी भारत के सुदूर इलाके में जन्मी एक आदिवासी समुदाय की बेटी राष्ट्रपति चुनी गई है। "भारत इतिहास लिखता है। ऐसे समय में जब 1.3 बिलियन भारतीय आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं, पूर्वी भारत के एक दूरस्थ हिस्से में पैदा हुए एक आदिवासी समुदाय से आने वाली भारत की बेटी को हमारा राष्ट्रपति चुना गया है!" रात के खाने में देश के सभी हिस्सों से अच्छा प्रतिनिधित्व था, जिसमें कई पद्म पुरस्कार विजेता और आदिवासी नेता शामिल थे। इस मौके पर उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और प्रधानमंत्री कैबिनेट के सदस्य मौजूद थे। इसमें कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी भी शामिल हुए। 

राम नाथ कोविंद ने 25 जुलाई, 2017 को भारत के चौदहवें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी. कोविंद भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के उम्मीदवार थे और उन्होंने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) के उम्मीदवार और लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष मीरा कुमार को हराया. राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार होने से पहले वह बिहार के राज्यपाल और राज्यसभा में संसद सदस्य थे. कोविंद ने अपने शासनकाल के दौरान 28 देशों की राजकीय यात्राएं की. 
 
 
News
More stories
मुख्यमंत्री के निर्देश पर कांवड़ यात्रियों पर हेलीकाप्टर से की गयी पुष्प वर्षा,इस वीडियो में देखें