Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

‘हम दो हमारे बारह’ को लोगों ने बताया इस्लामोफोबिक, पोस्टर देख भड़क उठे लोग

10 Aug, 2022
Head office
Share on :

फिल्म ‘हम दो हमारे बारह’ का पोस्टर आउट होते ही काफी विवाद फैलता दिख रहा है. पोस्टर देख लोग काफी भड़क उठे हैं और इस फिल्म को मुस्लिम समुदाय पर सीधा अटैक बताया है. लोगों का कहना है की यह फिल्म इस्लामोफोबिक है. इस बढ़ते विवाद पर फिल्म के डायरेक्टर ने अपनी सफाई में दिया यह बयान.

नई दिल्ली: वैसे तो जब भी किसी फिल्म का पोस्टर या ट्रेलर रिलीज़ होता है, हमेशा ही उसपर लोगों का अलग अलग रिएक्शन दखने को मिलता है. अभी हाल ही में ‘लाल सिंह चड्डा’ पर काफी विवाद फैला हुआ था अब उसके बाद फिल्म ‘हम दो हमरे बारह’ चर्चाओं में नज़र आ रही है. लोगों ने फिल्म को इस्लामोफोबिक बताया है और उनका कहना है कि फिल्म एक समुदाय को टारगेट कर रही है. इस पर काफी बवाल मचा हुआ.

‘हम दो हमारे बारह’ नाम की एक फिल्म जल्द ही आने वाली है. फिल्म में अन्नू कपूर लीड रोल में हैं. फिल्म का पहला पोस्टर आया है, जिसमें अन्नू कपूर अपने 11 बच्चों और प्रेग्नेंट पत्नी के साथ नज़र आ रहे है. इस पोस्टर पर लोग काफी भड़के हुए हैं और अपनी आपत्तियां जता रहे हैं. क्योंकि इस पोस्टर में मुस्लिम परिवार को दर्शाया गया है.

क्यों पोस्टर देख भड़के लोग

इस पोस्टर पर लोगों के आपत्तिजनक रिएक्शन देखने को मिल रहे हैं और काफी विवाद फैलता नज़र आ रहा है. लोग फिल्म को इस्सलामोफोबिक बता कर इसका विरोध कर रहे हैं. आउट हुए पोस्टर पर देश में मुस्लिम समुदाय की बढ़ती आबादी की ओर इशारा किया जा रहा है. और तो और उसी समुदाय को देश में हो रहे जनसंख्या विस्फोट यानी का ज़िम्मेदार माना जा रहा है. इस फिल्म को इस्लामोफोबिया से उपजी फिल्म बताया जा रहा है. लोगों का कहना है की यह फिल्म एक समुदाय को निशाना बना रही है.

सेंसर बोर्ड से किया सवाल

इस पूरे विवाद के चलते जर्नलिस्ट राना अय्युब ने फिल्म के पोस्टर के साथ ट्वीट कर कहा कि, ‘सेंसर बोर्ड ऐसी फिल्म की अनुमति कैसे दे सकता है जिसमें जनसंख्या विस्फोट की वजह मुस्लिम बताये जा रहे हैं. यह फिल्म इस समुदाय पर अटैक को बढ़ावा दे रही है . मुस्लिम परिवार की इमेज लगाकर इसे हम दो हमारे बारह लिखना पूरी तरह से इस्लामोफोबिया है.’

अपनी सफाई में क्या बोले फिल्म डायरेक्टर

बढ़ते विवाद पर फिल्म के डायरेक्टर ने फिल्म के आउट हुए पोस्टर को लेकर सफाई देते हुए कहा है कि, ‘हमारी फिल्म का पोस्टर बिलकुल विवादित नहीं है. इसे सही नजरिए के साथ देखना चाहिए. इस फिल्म के जरिए हम किसी भी समुदाय को बिलकुल टारगेट नहीं कर रहे हैं. मुझे यकीन है कि लोग जब इस अहम मुद्दे पर बनी फिल्म देखेंगे तो उन्हें खुशी होगी. फिल्म में हम किसी भी तरह से बायस्ड नहीं हैं’.

‘किताब का कवर देखकर फैसला मत कीजिए’: अन्नू कपूर

इसी के साथ लीड एक्टर अन्नू कपूर ने पोस्टर को लेकर लोगों के रिएक्शन पर बयान दिया कि, ‘किताब का कवर देखकर ही फैसला मत कीजिए कि अंदर क्या लिखा है. पहले फिल्म को देखिये और फिर समझने की कोशिश करिए कि मेकर्स ने इस फिल्म को किस मकसद से बनाया है और इसमें वह क्या कहना चाहते हैं’.

News
More stories
Ram Mandir Update: राम मंदिर निर्माण के पूरे हुए 2 साल, मंदिर निर्माण के 2 साल में 40% पूरे हुए काम