Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

LULU Mall Controversy: Lulu Mall में नमाज पर CM Yogi का बयान, अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश !

19 Jul, 2022
Employee
Share on :

लखनऊ के लुलु मॉल में नमाज पढ़ने को लेकर विवाद अब तूल पकड़ चूका है जिसके बाद इस विवाद पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) का बयान आया है। योगी ने सख्त हिदायत दी है कि मॉल को राजनीति का अड्डा नहीं बनने दिया जाएगा और इसके साथ ही उन्होंने हाल ही में हुई दो घटनाओं पर नाराजगी जताई है।

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीते दिनों खुले लुलु मॉल के भीतर नमाज पढ़ने को लेकर हुए विवाद पर अब उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है। लुलु मॉल विवाद पर प्रदर्शनकारियों को सख्त संदेश देते हुए यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुछ लोग अनावश्यक टिप्पणी कर रहे हैं और लोगों की आवाजाही बाधित करने के लिए प्रदर्शन कर रहे हैं. लुलु मॉल में प्रदर्शन करने वालों को बदमाश करार देते हुए सीएम योगी ने लखनऊ प्रशासन को सख्ती से निपटने के निर्देश  दिए। उन्होंने कहा कि लखनऊ प्रशासन को इस मामले को बहुत गंभीरता से लेना चाहिए. इस तरह का उपद्रव करने का प्रयास करने वाले उपद्रवियों से सख्ती से निपटा जाना चाहिए.

बीते शाम सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग हुई इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के लुलु मॉल विवाद पर भी टिप्पणी की। सीएम योगी ने कहा, ‘लखनऊ में एक मॉल खुला है, वह मॉल अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठान को लेकर काम कर रहा है, उसको लेकर राजनीति का अड्डा बनाना, सड़कों पर प्रदर्शन करना, यातायात को बाधित करना गलत है।’

लुलु मॉल विवाद पर CM योगी

सोमवार शाम हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के लुलु मॉल विवाद पर कहा, ‘लखनऊ में एक मॉल खुला है, वह मॉल अपने व्यवसायिक प्रतिष्ठान को लेकर काम कर रहा है, उसको लेकर राजनीति का अड्डा बनाना, सड़कों पर प्रदर्शन करना, यातायात को बाधित करना गलत है.’मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘बार-बार लखनऊ प्रशासन से कहा गया कि जो अराजकता की स्थिति पैदा करने, सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने का कुत्सित प्रयास हो रहा है, उसे गंभीरता से लेना चाहिए और किसी भी प्रकार की शरारत को स्वीकार नहीं करना चाहिए, जो अनावश्यक मामलों को बढ़ावा देकर माहौल को खराब करने का प्रयास करते हैं उनसे सख्ती से निपटना चाहिए.

यह भी पढ़े: Lucknow Lulu Mall: लखनऊ के Lulu मॉल के बाहर एक बार से हुआ बवाल, 15 लोग हिरासत में, हनुमान चालीसा पाठ के लिए पहुंचे थे.

माल के पास किसी पूजा या कार्यक्रम की अनुमति नहीं

लखनऊ प्रशासन और पुलिस को सख्त हिदायत देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘सड़कों पर यातायात को बाधित कर किसी भी तरह की पूजा या कार्यक्रम की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए, ऐसे लोगों से सख्ती से निपटना चाहिए।’ लुलु मॉल विवाद पर सीएम योगी ने लखनऊ पुलिस को कार्रवाई करने की हिदायत दी है।

लूलू माल में नमाज अदा करते नमाजी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का रविवार यानी 10 जुलाई को लुलु मॉल का उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया था और इसके बाद लुलु मॉल पर जिहादी ग्रुप से लिंक होने का कभी आरोप लगा तो कभी जिहाद को बढ़ावा देने का. और इसके बाद लखनऊ के लुलु मॉल में कुछ लोगों द्वारा नमाज़ पढ़ने को लेकर बड़ा विवाद खड़ा हो गया था मॉल कॉम्प्लेक्स के अंदर नमाज अदा करने वाले 7-8 लोगों का एक वीडियो भी वायरल हो गया था  जैसे ही वीडियो वायरल हुआ लोगों का गुस्सा लुलु मॉल पर फूट पड़ा.

News
More stories
एक मुख्यामंत्री को विदेश टूर पर जाने की अनुमति नहीं, केजरीवाल के सिंगापुर टूर पर फैला विवाद