Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

खुद की इन्टरनेट सर्विस देने वाला पहला राज्य बना केरल, बीपीएल परिवारों को मिलेगा मुफ्त इन्टरनेट

15 Jul, 2022
Head office
Share on :
kerela KFON project

केरल देश का पहला और एकलौता राज्य बन गया है जिसके पास खुद की इंटरनेट सर्विस है। केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने ट्वीट कर बताया कि केरल फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क (KFON) को टेलीकॉम डिपार्टमेंट से इंटरनेट सर्विस उपलब्ध कराने का लाइसेंस मिल गया है. 

नई दिल्ली: केरल भारत का पहला ऐसा राज्य बन चुका है जिसके पास खुद की अपनी इंटरनेट सेवा है. राज्य के मुख्यमंत्री पी विजयन ने ये ऐलान किया है. उन्होंने 14 जुलाई यानी गुरुवार को बताया कि, केरल देश का ऐसा पहला और इकलौता राज्य बन गया है जिसके पास अपना खुद का इंटरनेट है. केरल फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क लिमिटिड को दूरसंचार विभाग से इंटरनेट सेवा प्रदाता लाइसेंस मिल गया जिसके बाद ऐसा संभव हो पाया है. मुख्यमंत्री विजयन ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी थी.

kerela internet service

केरला KFON प्रोजेक्ट

Kerela KFON Project

बता दें कि केरल KFON योजना को लेकर लम्बे वक्त से काम चल रहा था. 2019 में करीब 1548 करोड़ की इस योजना को शुरू करने की बात रखी गयी थी और इंटरनेट को मूलभूत अधिकार के तौर पर देने की बात कही गई थी. केरल KFON राज्य में हर शख्स तक इंटरनेट की पहुँच सुनिश्चित करने की सरकार की आईटी इंफ्रास्ट्रक्चर योजना है. केरल फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क लिमिटिड को मिले लाइसेंस के बाद अब राज्य के हर छोटे बड़े हिस्से तक इंटरनेट को पहुँचाया जा सकेगा. केरल सरकार ने मई 2020 में KFON प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी और इसका मकसद राज्य के हर घर तक इंटरनेट पहुंचाना है. और तो और इस योजना से गरीब परिवारों को फ्री इंटरनेट सुविधा दी जाएगी.

बीपीएल परिवारों को मिलेगा फ्री इन्टरनेट

KFON प्रोजेक्ट के तहत, केरल राज्य के सभी 14 जिलों तक 35 हजार किलोमीटर लंबा ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क बिछाया गया है. और इन सभी14 जिलों के लगभग सभी गांवों तक नेटवर्क पहुंचाया गया है. राज्य के 20 लाख परिवारों को मुफ्त में इंटरनेट भी दिया जाएगा. ये इंटरनेट उन परिवारों को दिया जाएगा, जो गरीबी रेखा से नीचे आते हैं. गरीब परिवारों के अलावा राज्य के लगभग 30 हजार सरकारी संस्थानों तक भी हाई स्पीड इंटरनेट मुहैया कराया जाएगा. उस हर परिवार को फ्री में इंटरनेट मिलेगा, जिसका नाम अंत्योदय लिस्ट में है या फिर BPL कार्ड है.

मूल अधिकार के तौर पर दिया इन्टरनेट

मुख्यमंत्री विजयन बताते हैं कि लाइसेंस मिलने के बाद समाज में डिजिटल विभाजन को पाटने के लिए यह परियोजना अपना काम शुरू कर सकती है. विजयन ने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा है कि केरल अपनी इंटरनेट सेवा वाला देश का एकमात्र राज्य बन गया है. उन्होंने इस योजना के तहत पूरे राज्य में इंटरनेट का जाल फैलाने की तरफ भी इशारा किया. पी विजयन के ट्वीट में यह भी कहा गया है कि इस योजना से लोगों को उनका मूल अधिकार मिल पाएगा. 

News
More stories
सामान्य से 62 प्रतिशत कम वर्षा पर सीएम योगी ने विभागों को किया अलर्ट, बताया ख़रीफ़ की बुआयी कैसे होगी