Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

कैसा था सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव का जीवन सफ़र, आईये जानते है ‘अखाड़े की पहलवानी से साईकिल पर पार्टी के प्रचार तक’

10 Oct, 2022
Employee
Share on :
malayam singh yadav RIP

मुलायम सिंह यादव का राजनीतिक उदय भारतीय राजनीति के समाजवादी और लोकतांत्रिक होने का जीवंत प्रमाण है लेकिन राजनीति का चरित्र राजनेता के चरित्र में भी हो, ये ज़रूरी नहीं है. सपा सरंक्षक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का आज यानी सोमवार को निधन हो गया.

नई दिल्ली: सपा सरंक्षक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव का आज यानी सोमवार को निधन हो गया. वे 82 साल के थे. मुलायम सिंह यादव को यूरिन संक्रमण, ब्लड प्रेशर की समस्या और सांस लेने में तकलीफ के चलते पिछले दिनों गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उनकी तबीयत लगातार नाजुक बनी हुई थी.

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

मुलायम सिंह यादव के भर्ती होने के बाद से अस्पताल में नेताओं के मिलने सिलसिला लगातार जारी था. रविवार को नेताजी का हाल जानने के लिए रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया मेदांता अस्पताल पहुंचे. वहीं, इससे पहले आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अस्पताल पहुंचकर अखिलेश यादव से की मुलाकात थी.

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव मृत्यु

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव से बातचीत कर मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य की जानकारी ली. पीएम मोदी ने अखिलेश यादव को आश्वासन दिया था कि वे हर संभव मदद और सहायता देने के लिए मौजूद हैं. वहीं, राजनाथ सिंह मुलायम सिंह यादव का हालचाल जानने के लिए अस्पताल भी पहुंचे थे.

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

जीवन

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

मुलायम सिंह यादव का जन्म 22 नवंबर 1939 को इटावा जिले के सैफई गांव में हुआ था. उनके पिता सुघर सिंह यादव एक किसान थे.  मुलायम सिंह यादव मौजूदा वक्त में मुलायम सिंह मैनपुरी सीट से लोकसभा सांसद हैं.

उत्तर प्रदेश की राजनीति हो देश की राजनीति, मुलायम सिंह यादव को प्रमुख नेताओं में गिना जाता हैं. वे तीन बार UP के सीएम रहे और वो केंद्र सरकार में रक्षा रक्षा मंत्री भी रह चुके हैं. इसके अलावा मुलायम सिंह 8 बार विधायक और 7 बार लोकसभा सांसद भी चुने जा चुके हैं.

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

मुलायम सिंह यादव ने दो शादियां की थीं. उनकी पहली पत्नी, मालती देवी की मृत्यु मई 2003 में हुई, वह अखिलेश यादव की मां थी. मुलायम ने दूसरी शादी साधना गुप्ता से की. मुलायम सिंह और साधना के बेटे का नाम प्रतीक यादव है. हाल ही में साधना का निधन हो गया था.

मुलायम को राजनेता नहीं पहलवान बनाना चाहते थे पिता

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

उनके गुरु डॉ राममनोहर लोहिया का उद्धरण “ज़िंदा कौम पांच साल तक इंतजार नहीं करती” उनका मंत्र बन गया और वह देश के सबसे सफल राजनीतिक नेताओं में से एक बन गए। साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाले मुलायम सिंह यादव के पिता चाहते थे कि मुलायम सिंह पहलवान बने। लेकिन, उनकी किस्मत में कुछ और ही बनना लिखा था।  यही कारण है कि एक कुश्ती प्रतियोगिता के दौरान उनकी मुलाकात स्थानीय राजनीतिक नेता नाथूराम से हुई, जिन्होंने उन्हें राजनीति में प्रवेश करने का पहला मौका दिया था।

मुलायम पर चली थीं गोलियां 

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

तारीख 8 मार्च 1984 की है जब मुलायम सिंह यादव की जान बाल-बाल बची थी. मुलायम सिंह यादव उस वक्त लोकतांत्रिक मोर्चा के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष थे. मुलायम इटावा दौरे पर निकले थे कि अचानक उनकी कार पर दो बाइक सवार हमलावरों ने ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं. कार पर कुल 9 राउंड की फायरिंग की गई. इस हमले में मुलायम सिंह के एक सहयोगी की मौत हो गई, लेकिन गोली चलाने वाले छोटेलाल को भी मौके पर ही सुरक्षा कर्मियों ने मौत के घाट उतार दिया. दूसरे हमलावर नेत्रपाल को भी गंभीर चोटें आईं. 

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव

नेताजी के नाम से मशहूर सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव का सोमवार सुबह निधन हो गया. ऐसे में हर कोई मुलायम सिंह को अपने तरीके से याद कर रहा है. हालांकि मुलायम जमीन से जुड़े नेता थे तो हर किसी के पास उन्हें याद करने के अपने पल हैं.

समाजवादी पार्टी संस्थापक माननीय मुलायम सिंह यादव ओल्ड पिक्चर

Edited By Deshhit News

News
More stories
मुख्यमंत्रीधामी ने कैम्प कार्यालय में दिव्यांगजनों के लिए कृत्रिम अंग वितरण कार्यक्रम में प्रतिभाग किया।