Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

Heeraben Modi 100th Birthday: PM मोदी नें मां के लिए कहीं 10 बड़ी बातें, मां के 100वें वर्ष में प्रवेश करने पर लिखा ब्लॉग

18 Jun, 2022
Employee
Share on :
Pm modi mother Heera Ben 100th birthday

Heeraben Modi 100th Birthday: प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी मां के 100वें वर्ष में प्रवेश करने पर एक ब्लॉग भी लिखा है, जिसमें उन्होंने अपने जीवन से जुड़ी कई यादों को साझा किया है. अपनी मां हीरा बा के बारे में कई महत्वपूर्ण बातें भी बताई हैं. आईये आपको बताते है अपनी मां हीराबेन के जन्मदिन के मौके पर पीएम मोदी के ब्लॉग की 10 बड़ी बातें.

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन आज अपने 100वें वर्ष में प्रवेश कर चुकी है. आपको बता दें कि हीरा बा अपने छोटे बेटे पंकज मोदी के साथ गांधीनगर में रहती हैं. इस मौके पर पीएम मोदी उनसे मिलने गांधीनगर पहुंचे. उन्होंने अपनी मां के पां छुए और मिठाई खिलाकर उनका मुंह मीठा कराया फिर आशीर्वाद लिया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी मां के 100वें वर्ष में प्रवेश करने पर एक ब्लॉग भी लिखा है, जिसमें उन्होंने अपने जीवन से जुड़ी कई यादों को साझा करते हुए अपनी मां हीरा बा के बारे में कई महत्वपूर्ण बातें बताई हैं. क्या है वो पीएम मोदी के ब्लॉग की 10 बड़ी बातें जानिए.

Pm Modi Mother Heerba 100th Birthday

नम्बर 1- मां, सिर्फ एक शब्द नहीं है. जीवन की वह भावना होती जिसमें स्नेह, धैर्य, विश्वास, कितना कुछ समाया होता है. मां, सिर्फ हमारा शरीर ही नहीं गढ़ती बल्कि हमारा मन, हमारा व्यक्तित्व, हमारा आत्मविश्वास भी गढ़ती है. मेरे जीवन में जो कुछ भी अच्छा है, मेरे व्यक्तित्व में जो कुछ भी अच्छा है, मेरी मां और पिताजी की ही देन है.

Pm Modi Mother Heerba 100th Birthday

नम्बर 2- मां का हमेशा से य​ह आग्रह रहा है कि अन्न का एक भी दाना बर्बाद नहीं होना चाहिए. हमारे कस्बे में जब किसी के शादी-ब्याह में सामूहिक भोज का आयोजन होता था तो वहां जाने से पहले मां सभी को य​ह बात जरूर याद दिलाती थीं कि खाना खाते समय अन्न मत बर्बाद करना.

नम्बर 3- मां का हमेशा से य​ह आग्रह रहा है कि अन्न का एक भी दाना बर्बाद नहीं होना चाहिए. हमारे कस्बे में जब किसी के शादी-ब्याह में सामूहिक भोज का आयोजन होता था तो वहां जाने से पहले मां सभी को य​ह बात जरूर याद दिलाती थीं कि खाना खाते समय अन्न मत बर्बाद करना.

नम्बर 4- मेरी मां जमीन पर बर्तन रख दिया करती थीं. छत से टपकता हुआ पानी उसमें इकट्ठा होता रहता था. उसी पानी को मां घर के काम के लिए अगले 2-3 दिन तक इस्तेमाल करती थीं. जल संरक्षण का इससे अच्छा उदाहरण क्या हो सकता है.

नम्बर 5- आज जब लोग मां के पास जाकर पूछते हैं कि आपका बेटा पीएम है, आपको गर्व होता होगा, तो मां उन्हें कहती है कि जितना आपको गर्व होता है, उतना ही मुझे भी होता है. वैसे भी मेरा कुछ नहीं है. मैं तो निमित्त मात्र हूं. वह तो भगवान का है.

नम्बर 6- अक्षर ज्ञान के बिना भी कोई सचमुच में शिक्षित कैसे होता है, ये मैंने हमेशा अपनी मां में देखा. उनके सोचने का दृष्टिकोण, उनकी दूरगामी दृष्टि, मुझे कई बार हैरान कर देती है.

Pm Modi Mother Heerba 100th Birthday

नम्बर 7- मेरी मां के नाम आज भी कोई संपत्ति नहीं है, मैंने उनके शरीर पर कभी सोना नहीं देखा. वह पहले भी सादगी से रहती थीं और आज भी वैसे ही अपने छोटे से कमरे में पूरी सादगी से रहती हैं.

नम्बर 8- दुनिया में क्या चल रहा है, आज भी इस पर मां की नजर रहती है. हाल-फिलहाल में मैंने मां से पूछा कि आजकल टीवी कितना देखती हों? मां ने कहा कि टीवी पर तो जब देखो तब सब आपस में झगड़ा कर रहे होते हैं.

नम्बर 9- यह 2017 की बात है जब मैं यूपी चुनाव के आखिरी दिनों में, काशी में था तो वहां से मां के लिए प्रसाद लेकर गया था. मां से मिला तो उन्होंने पूछा क्या काशी विश्वनाथ महादेव के मंदिर तक जाने का रास्ता अब भी वैसा ही है, ऐसा लगता है किसी के घर में मंदिर बना हुआ है.

नम्बर 10- दूसरों की इच्छा का सम्मान करने की भावना, दूसरों पर अपनी इच्छा ना थोपने की भावना, मैंने मां में बचपन से ही देखी है. खासतौर पर मुझे लेकर वह बहुत ध्यान रखती थीं कि मेरे और मेरे निर्णयों को बीच कभी दीवार ना बनें.

News
More stories
काबुल में गुरुद्वारे के परिसर में बम धमाके, कई घायल, विदेश मंत्रालय ने कहा- हालात पर रख रहे नजर