हल्द्वानी हिंसा: 10 फरवरी को सबकुछ ठीक रहा तो मिल सकती कर्फ्यू से राहत

10 Feb, 2024
Head office
Share on :

हल्द्वानी: हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुई हिंसा के बाद शहर में कर्फ्यू जारी है। इंटरनेट सेवा से लेकर सभी तरह की सेवाएं बाधित हैं। लोग परेशान हैं। बनभूलपुरा से दूसरे क्षेत्र के लोग कर्फ्यू में ढील की मांग करने लगे हैं। हालांकि, शुक्रवार की रात तक जिला प्रशासन का किसी तरह का आदेश नहीं आया है। अगर 10 फरवरी को सबकुछ ठीक रहा तो ढील मिल सकती है। जिला प्रशासन का कहना है कि इसके लिए सभी पहलुओं पर विचार किया जाएगा।

5 हजार अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज: पुलिस बनभूलपुरा में हुई हिंसा के उपद्रवियों और पत्थरबाजों की पहचान मौके से मिले सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कर रही है। फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है।  एहतियात के तौर पर हलद्वानी में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात कर स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। बनभूलपुरा हिंसा मामले में पुलिस ने अब तक पांच हजार अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। वहीं, चार लोगों को हिरासत में लिया है।

वहीं बवाल के दूसरे दिन जिला प्रशासन ने शहर को सात जोन में बांट दिया है। सभी जोन में मजिस्ट्रेट तैनात कर दिए हैं। डीएम वंदना के अनुसार, ताज चौराहा किदवई नगर, चोरगलिया रोड, लाइन नंबर 17 से मुजाहिद चौक तक सुपर जोन एक के लिए एपी बाजपेयी, गांधी नगर व इंदिरा नगर में सुपर जोन दो के लिए प्रमोद कुमार को मजिस्ट्रेट तैनात किया गया है। वहीं, मंगल पड़ाव मेडिकल, मंडी, गोरापड़ाव, सुशीला तिवारी अस्पताल मोर्चरी तक सुपर जोन तीन के लिए तुषार सैनी, थाना काठगोदाम गौलापार तिराहे से बागजाला तक सुपर जोन चार के लिए कृष्ण नाथ गोस्वामी को मजिस्ट्रेट तैनात किया गया है।

सुपर जोन पांच में नैनीताल अर्बन तिराहे से चक्रीय क्रम में मुखानी चौराहा, सुशीला तिवारी अस्पताल तक शामिल है। इसमें विपिन पंत मजिस्ट्रेट रहेंगे। इसके अतिरिक्त ऋचा सिंह पूरे नगर क्षेत्र को देखेंगी और पारितोष वर्मा परगना क्षेत्र के मजिस्ट्रेट बनाए गए हैं। डीएम का कहना है कि सभी मजिस्ट्रेट एडीएम शिव चरण द्विवेदी के निर्देशन में कार्य करेंगे। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए निरंतर भ्रमण करते रहेंगे।

घायल पुलिसकर्मियों से मिले सीएम धामी: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी गुरुवार को बनभूलपुरा में मलिक का बगीचे में अवैध रुप से कब्जा कर बनाए मदरसा- नमाज स्थल ध्वस्त करने गयी टीम पर अराजक तत्वों द्वारा पथराव में घायल हुए पुलिस कर्मी, पत्रकारों से मुलाक़ात कर हाल चाल जाना।

शुक्रवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हल्द्वानी कोतवाली परिसर में करीब 20 से अधिक घायल   पुलिस कर्मी और पत्रकारों से मुलाक़ात की। इस दौरान घायलों ने घटना की पूरी जानकारी और आप बीती बताई। उन्होंने कहा कि घायलों का इलाज चल रहा है, और उनके लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।

उन्होंने जिला प्रशासन-पुलिस अधिकारियों से आरोपियों के खिलाफ सख्त सख्त कार्रवाही करने के आदेश दिए।कहा कि  पुलिस कर्मी, पत्रकारों पर हुआ हमला निंदनीय है। क़ानून अपना कार्य  कर रहा है। कुछ अराजक तत्वों ने देव भूमि उत्तराखंड का माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं । ऐसे आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाही की जाएगी। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने बताया कि उन्होंने दूरभाष पर घायल पत्रकारों से भी बात की जिन्होंने बताया कि उन्हें जिंदा आग में झोंकने के प्रयास किए गए। साथ ही उन्होंने कालाढूंगी एसडीएम रेखा कोहली से भी उन्होंने बात की।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि सरकारी संपत्ति में अतिक्रमण करने वालों और हिंसा फैलाने के खिलाफ जांच समिति बनाकर सख्त कार्रवाही की जाएगी। उन्होंने घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

दोषियों पर होगी कड़ी कार्रवाई- अजय भट्ट

केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री व नैनीताल उधम सिंह नगर संसदीय क्षेत्र से सांसद अजय भट्ट ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा में विगत दिवस हुए उपद्रव पर कहा है कि सरकार इस तरह की घटना करने वालों को चिन्हित कर कड़ी से कड़ी सजा देगी। भट्ट ने कहा कि बीते रोज सऊदी अरब दौरे से आकर वह लोकसभा सत्र होने के कारण तत्काल वहां नहीं पहुंच सकते लेकिन दूरभाष पर  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जी और पूरे प्रशासनिक अधिकारियो से वह लगातार वार्ता कर रहे हैं और एक-एक अपडेट ले रहे हैं। भट्ट ने घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए कहा कि सरकार इस पूरे घटनाक्रम को संजीदगी से लेते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी।

Tags : हल्द्वानी हिंसा , घायल पुलिसकर्मियों से मिले सीएम धामी , Haldwani , Uttarakhand , HindiNews

News
More stories
Haryana : कानून तोड़ने वालों के पासपोर्ट, हथियार लाइसेंस खो जाएंगे, पुलिस को चेतावनी
%d bloggers like this: