राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं मुख्यमंत्री योगी ने शिष्टाचार भेंट की I

12 Dec, 2023
Head office
Share on :

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राष्ट्रपति मुर्मू को खादी की शॉल और श्रीकृष्ण की प्रतिमा भेंट की।
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू उत्तर प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर हैं ।

लखनऊ, उत्तर प्रदेश। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी यानी IIIT लखनऊ का आज दूसरा दीक्षांत समारोह है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू बतौर चीफ गेस्ट के तौर पर शामिल हुई। राष्ट्रपति को अपने बीच पाकर मेधावी छात्र-छात्रायें बेहद खुश हुए और उनका तालियों के साथ स्वागत किया। इस मौके पर राष्ट्रपति ने संस्थान के छात्र-छात्रों को मेडल व डिग्री देकर सम्मानित किया। दीक्षांत समारोह में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और CM योगी आदित्यनाथ भी पहुंचे हैं।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कही यह बात:

संस्थान के दूसरे दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि, “राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने युवाओं को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि मैंने अभी देखा है कि आपके संस्थान के लोगों में विद्या ददाति विनयम… को उल्लेखित किया है जिसका अर्थ है विद्या विनय देती है और विनय से पात्रता आती है। पात्रता से धन आता है और धन से धर्म आता है। धर्म से सुख प्राप्त होता है। मुझे आशा है कि आप सब अपने संस्थान के ध्येय के अनुकूल आचरण करते हुए भविष्य का निर्माण करेंगे।”

उन्होंने कहा कि, “मुझे बताया गया है कि, IIIT लखनऊ को संसद के अधिनियम द्वारा Institute of National Importance का दर्जा दिया गया है। ये दर्जा आपकी योग्यता, सामर्थ्य, और दक्षता का परिचायक है। इस status के साथ देश और समाज आपसे आशा करता है कि आप शिक्षा के क्षेत्र में न केवल सर्वोच्च मानकों पर खरे उतरेंगे बल्कि उत्कृष्टता और सर्वश्रेष्ठता के ऐसे आयाम स्थापित करेंगे जो स्वयं में मापदंड होंगे।”

उन्होंने कहा कि, “Artificial Intelligence और इसके अनुप्रयोगों पर केंद्रित पाठ्यक्रम विद्यार्थियों को नए तकनीकी परिदृश्य में Navigate करने के लिए आवश्यक कौशल प्रदान करता है। मुझे यह जानकर खुशी हो रही है कि, IIIT लखनऊ समाज एवं उद्योग जगत के सामने आने वाली चुनौतियों के निदान एवं समय के साथ उपजी मांगों के लिए विद्यार्थियों को तैयार करने के लिए प्रतिबद्ध है।”

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कहा कि, “आज भारत के पास 5D है- Demand, Demography, Democracy, Desire और Dream. यह 5D हमारे विकास की यात्रा में अत्यंत लाभकारी होंगी। हमारी अर्थव्यवस्था जो एक दशक पहले 11वें पायदान पर थी आज 5th largest economy है और वर्ष 2030 तक 3rd largest economy बनने की राह पर है।”

उन्होंने कहा कि, “AI एवं अन्य समकालीन तकनीकी विकास असीमित एवं अभूतपूर्व Developmental एवं Transformative संभावनाएं प्रदान करता है। लेकिन हमें महात्मा गांधी का यह कथन भी याद रखना होगा ‘Knowledge without character is a sin’. यह आवश्यक है कि, AI प्रयोग के साथ उत्पन्न हुई नैतिक दुविधाओं का निराकरण सबसे पहले हो।”

योगी आदित्यनाथ ने कही यह बात:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि, “हमारा देश आज दुनिया के अंदर एक बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरा है। हम सब नए भारत को देख रहे हैं। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में भारत ने अपने युवा ऊर्जा के लिए रास्ते खोले हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने देश की 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनामी का लक्ष्य रखा है। वहीं उत्तर प्रदेश एक ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी की ओर आगे कदम बढ़ा रहा है। मुख्यमंत्री ने युवाओं को देसी के प्रति ईमानदारी और निष्ठा के साथ कार्य करने की सीख दी।”

उन्होंने कहा कि, “फरवरी में हुए ग्लोबल इन्वेस्टर समिति के तहत अब तक 40 हजार करोड़ के निवेश के प्रस्ताव उत्तर प्रदेश को मिले हैं। युवा इस दिशा में भी अपना कॅरियर चुन सकते हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि आप (युवा) अपनी पूरी प्रतिभा और मेहनत को देश के विकास में लगाएंगे। युवाओं को मैं बधाई देता हूं और राष्ट्रपति का एक बार फिर हृदय से अभिनंदन करता हूं।”

News
More stories
UPCL को 15 दिन में देना होगा बिजली कनेक्शन, रोजाना पांच रुपये प्रति हजार हर्जाना
%d bloggers like this: