Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

प्रेम – प्रसंग के चलते माता – पिता ने गोली मारकर युवती को उतारा था मौत के घाट, 18 नवंबर को सूटकेस में बंद मिला था शव

21 Nov, 2022
देशहित
Share on :

मृतक आयुषी 4 दिनों से गायब थी लेकिन पुलिस को हैरानी तब हुई जब इस संबंध में कोई शिकायत नहीं किए जाने की बात पता चली। सख्ती से पूछताछ में पिता ने हत्या किए जाने की बात कबूल कर ली।

नई दिल्ली: 18 नवंबर की दोपहर यमुना एक्सप्रेसवे पर मथुरा के राया थाना क्षेत्र के सर्विस रोड पर पुलिस को एक लाल रंग का ट्राली बैग पड़ा मिला था। जिसमें एक युवती का शव पाया गया था। उस समय पुलिस लाश की शिनाख्त करने में नाकाम थी लेकिन पुलिस को अब इस मामले में बड़ी सफलता हाथ लगी है। युवती को मारने वाले उसके खुद के माता – पिता हैं। बता दें, माता-पिता ने बेटी के प्रेम-प्रसंग के चलते इस घटना को अंजाम दिया था।

ये भी पढ़े: गुजरात दौरे के आखिरी दिन पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा – कुछ लोग गुजरात का नमक खाकर गुजरात को गाली देते हैं

प्रेम -प्रसंग के चलते माता – पिता ने युवती को उतारा था मौत के घाट

जानकारी के मुताबिक, मृतका का नाम आयुषी है। वह 22 साल की है। वह दिल्ली में बीसीए कर रही थी। वह 17 नवंबर की सुबह घर से निकली थी। आयुषी का शव 18 नवंबर की दोपहर यमुना एक्सप्रेसवे पर मथुरा के राया थाना क्षेत्र के सर्विस रोड पर एक लाल रंग की ट्राली बैग में पाया गया था। आयुषी को उसी के ही माता -पिता ने गोली मारकर हत्या कर लाश सूटकेस में बंद करके फेंक दी थी। आयुषी के प्रेम – प्रसंग के चलते इस वारदात को अंजाम दिया गया है।

बेटी की गुमशुदगी की खबर दर्ज न कराने पर पुलिस को हुआ परिजन पर शक

मृतक आयुषी 4 दिनों से गायब थी लेकिन पुलिस को हैरानी तब हुई। जब मृतक आयुषी के लापता होने की खबर परिजनों ने पुलिस को नहीं दी। इसके बाद पुलिस को परिजन पर शक हुआ और जब पुलिस ने परिजनों से सख्ती से पूछताछ की। तब पिता ने हत्या किए जाने की बात कबूल कर ली। जुर्म कबूले जाने पर पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

Edit By Deshhit News

News
More stories
गुजरात दौरे के आखिरी दिन पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा - कुछ लोग गुजरात का नमक खाकर गुजरात को गाली देते हैं