प्रभावी परिवहन न होने से उपार्जन केन्द्रों में धान जाम, खरीदी व्यवस्था चरमराने लगी

12 Jan, 2024
Head office
Share on :

रायपुर। शासन द्वारा समर्थन मूल्य पर किसानों से धान खरीदी के लिये सोसायटियों के अधीन बनाये गये धान उपार्जन केन्द्रों से धान का प्रभावी परिवहन न होने से खरीदी व्यवस्था चरमराने लगी है ।धान का उठाव न‌‌ होने पर कई केन्द्रों में खरीदा ठप्प होने के कगार पर है । मंदिर हसौद सहकारी बैंक शाखा के अधीन आने वाले 7 केन्द्रों में ही लगभग 1लाख 70 हजार कट्टा धान जाम है जिसका मिलर्स को डी ओ व विपणन संघ को टी ओ जारी होने के बाद भी परिवहन की गति मंद है।

धान खरीदी केन्द्रों का जायजा लेने के बाद किसान संघर्ष समिति के संयोजक भूपेन्द्र शर्मा ने जानकारी दी है कि मंदिर हसौद सहकारी बैंक शाखा के अधीन आने वाले 7 धान खरीदी केन्द्रों में बीते कल गुरुवार की स्थिति में लगभग 1 लाख 70 हजार कट्टा धान परिवहन के लिये शेष पड़ा था जिसमें से गोढ़ी में लगभग 15 हजार कट्टा , गनौद में 35 हजार , टेकारी में 33 हजार , खुटेरी में 23 हजार , पलौद में 17 हजार , मंदिर हसौद में 15 हजार व बरौदा में 5 हजार कट्टा धान जाम पड़ा है । इसकी वजह से छोटे फड़ वाले केन्द्रों में अविलंब उठाव न‌‌ होने की स्थिति में धान खरीदी ठप्प होने के कगार पर है और किसानो के दबाव के चलते ऐसे खरीदी केन्द्रों के प्रभारी काफी दबाव व परेशानी में हैं । मिलर्स को इस जाम धान के उठाव के लिये डी ओ व विपणन संघ को टी ओ जारी होने के बाद भी प्रभावी परिवहन न होने की जानकारी देते हुये उन्होंने कहा है कि शासन – प्रशासन को अविलंब इस दिशा में कारगर कदम उठा धान खरीदी ठप्प न होने की सुनिश्चित व्यवस्था करने की आवश्यकता है।

News
More stories
सचिन पायलट से पूर्व मंत्री ने की छत्तीसगढ़ कांग्रेस में नई नियुक्ति करने की मांग
%d bloggers like this: