संभाग स्तरीय आईस्टार्ट स्कूल और ग्रामीण आउटरीच कार्यशाला का हुआ आयोजन

22 Dec, 2023
Head office
Share on :

राजस्थान सरकार के सूचना प्रौद्योगिकी और संचार विभाग की प्रमुख पहल आईस्टार्ट राजस्थान के तहत पहली बार संभाग स्तरीय आईस्टार्ट स्कूल और रूरल आउटरीच कार्यशाला का आयोजन महिला पीजी महाविद्यालय, जोधपुर में हुआ। इस पहल का मुख्य उद्देश्य राजस्थान में छात्रों के बीच उद्यमशीलता और नवाचार की भावना पैदा करना है।कार्यक्रम की शुरुआत वर्तिका सोनी, शुभम गुप्ता और सलोनी विजय के नेतृत्व में आईस्टार्ट स्कूल और रूरल कार्यक्रम के परिचय के साथ की गई। कार्यशाला में मिशन 2030 और राज एण्ड एलएमएस उद्यमिता पाठ्यक्रम पर एक ज्ञान वर्धक सत्र भी हुआ।कार्यक्रम में उद्यमिता और नवाचार के विषयों पर केंद्रित प्रेरणादायक सत्रों की एक श्रृंखला प्रस्तुत की गई। सम्मानित वक्ताओं ने सागर्भित अनुभवों को सामने रखते हुए बेहतरीन टिप्स दिए और बहुमूल्य अंतर्दृष्टि प्रदान की ।अतिथियों में श्री जे.पी. ज्याणी (उपनिदेशक, आईस्टार्ट जोधपुर), श्री एस.पी. व्यास (निदेशक, महिला पीजी महलविद्यालय, जोधपुर), श्री मनोहर लाल पुंगलिया (अध्यक्ष, श्री महालक्ष्मी शिक्षण संस्थान, श्री अनुराग लोहिया (मानद सचिव, श्री महालक्ष्मी शिक्षण संस्थान), डॉ. ज्योत्सना व्यास (प्रिंसिपल, श्री महालक्ष्मी गर्ल्स कॉलेज), डॉ. इला शर्मा (प्रबंध निदेशक, आयुधि फाउंडेशन), गुलाब पोटालिया(आईस्टार्ट मेंटर) ने संबोधित किया।रिमार्केबल एजुकेशन की संस्थापक और सीईओ डॉ. प्राची गौर ने बताया कि किस प्रकार युवा छात्र उद्यमी राजस्थान सरकार द्वारा उपलब्ध विभिन्न योजनाओं और प्लेटफार्म का उपयोग कर उनका लाभ ले सकते हैं।स्टार्टअप मानस प्रकृति के संस्थापक श्री अशोक रेनवाल ने अपनी स्टार्टअप यात्रा के बारे में बात की और स्थायी व्यावसायिक प्रथाओं के बारे में अपना ज्ञान साझा किया।कॉमेडियन और यूट्यूबर श्री हर्ष मल्होत्रा ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपने अनुभव के बारे में बताया और छात्रों के साथ बातचीत की, जहां उन्होंने ‘यूट्यूब कैसे काम करता है‘ के बारे में बताया।आरएसएम इंटरनेशनल स्कूल के छात्रों ने श्री अजयकरण जोशी द्वारा निर्देशित और सुश्री अंजलि भारद्वाज द्वारा कोरियोग्राफ किया गया एक समूह नाटक ‘चक्रव्यूह‘ प्रस्तुत किया। नाटक समूह में छात्र जितेंद्र सिंह राठौड़, दिनेश सैन, दिलीप सिंह, अमिता बिश्नोई, अर्पिता सिंह, कनक गुप्ता, खुशी सिंह और हर्षिता सिंह शामिल थे।इस कार्यक्रम में 400 से अधिक प्रतिभागी उपस्थित हुए, जिनमें विभिन्न राजकीय अधिकारी, बिजनेस लीडर्स, स्टार्टअप संस्थापकों के साथ-साथ स्कूलों और कॉलेजों के छात्र शामिल थे। कार्यशाला में कई इंटरेक्टिव सत्र भी आयोजित किये गए, जिससे प्रतिभागियों को उद्यमशीलता के बारे में कई सूक्ष्म जानकारियाँ मिलीं। इसने छात्रों के भीतर स्टार्टअप, उद्यमिता और नवाचार की भावना को प्रज्वलित कर उनकी आगे की एक आशाजनक और अभिनव यात्रा का मार्ग प्रशस्त किया। सरकार द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम ने छात्रों के बीच नेटवर्किंग और सामुदायिक जुड़ाव को बढ़ावा देने का एक जबरदस्त अवसर प्रस्तुत किया।कार्यक्रम का एक प्रमुख बिंदु मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मंशा को साकार करने की दिशा में ‘राजस्थान मिशन 2030‘ था। यह राजस्थान को शक्तिशाली और समृद्ध बनाने की दिशा में एक मजबूत प्रयास है, जो दर्शाता है कि राज्य सरकार प्रदेश के व्यापक विकास, समृद्धि और नागरिकों की सामाजिक सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।इसमें जानकारी दी गई कि आईस्टार्ट कार्यक्रम, आईस्टार्ट स्कूल और आईस्टार्ट रूरल की अधिक जानकारी https://istart.rajasthan.gov.in/ से प्राप्त की जा सकती है।

News
More stories
कांग्रेस नेता प्राइवेट जेट में यात्रा कर रहे, बीजेपी ने कसा तंज, शेयर किया वीडियो
%d bloggers like this: