Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

13 की उम्र में बच्ची ने दौप्रदी मुर्मू पर लिख दी किताब, सोनिया ममता से की वोट की मांग

20 Jul, 2022
Head office
Share on :
13 साल की भाविका माहेश्वरी

गुजरात की रहने वाली 13 साल की भाविका माहेश्वरी ने राष्ट्रपति पद की एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पर किताब लिखी है और तो और भाविका ने ये किताब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी को भेजी है, साथ ही द्रौपदी मुर्मू को वोट देनें की अपील कर आदिवासी समाज और महिलाओं का सम्मान और विकास की ओर रुख करने की गुजारिश की.

नई दिल्ली: राष्ट्रपति चुनाव की एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू अभी राष्ट्रपति पद से कुछ ही दूरी पर नज़र आ रही हैं. वहीं गुजरात के सूरत की भाविका माहेश्वरी, जिसकी उम्र महज़ 13 साल है, ने मुर्मू पर किताब लिख डालीं. मुर्मू के जीवन पर किताब लिखने वाली भाविका काफी चर्चाओं में बनी हुई हैं.

भाविका कक्षा 8 की छात्रा हैं और एक मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं. बताया गया है कि भाविका दिल्ली में आयोजित भारतीय उत्कृष्टता पुरस्कार विजेता भी हैं. भाविका बताती हैं कि उन्होंने हाल ही में दिल्ली में राष्ट्रपति भवन का दौरा किया. इस दौरान उनक पिता से उनको मुर्मू के बारे में तमाम बातें जानने को मिली. कई जगह मुर्मू के बारे में जानकारी खोजने की कोशिश के बाद उन्हें यह महसूस हुआ की ऐसे कई स्रोत उपलब्ध नहीं हैं जो उनके जीवन और संघर्षों पर प्रकाश डाल सकें. उनका मानना है कि उनके बारे में जो बातें उन्हें पता हैं वह और लोगों को भी पता चले. और उन्होंने मुर्मू के संघर्षों का ज़िक्र करते हुए उनके जीवन पर किताब लिख दी.

भाविका ने कहा कि जल्द ही इस किताब का विमोचन किया जाएगा. इसे अंग्रेजी, गुजराती और उड़िया भाषाओं में भी प्रकाशित किया जाएगा. उनका मानना है कि गरीबी और संघर्ष से लड़कर उच्च स्तर तक पहुंचना और मिसाल कायम करना हमारे लोकतंत्र की खूबसूरती है और इसे तमाम लोगों तक पहुँचाना चाहिए.

भाविका माहेश्वरी रामभक्त भी हैं. उन्होंने 4 रामायण पाठ करके करीब 50 लाख रुपए जुटाए और राम मंदिर निर्माण के लिए दान कर दिए. भाविका ने 4 रामकथाएं करके यह धनराशि जमा की थी. रामायण का पाठ करने वाली लड़की के नाम से मशहूर भाविका कई पुरस्कार से भी नवाजी जा चुकी हैं.

बता दें,अभिनेत्री अमीषा पटेल और अभिनेता मनोज तिवारी ने भाविका को ग्लोबल इंडिया नेशनल एक्सीलेंस अवार्ड से नवाजा है. उन्होंने एक किताब ‘आज के बच्चे, कल के भविष्य’ भी लिखी है, जिसे गुजरात के गृहमंत्री हर्ष सांघवी ने लॉन्च किया था. इस के साथ साथ वह रामकथा भी बांचती है और एक मोटिवेशनल स्पीकर के रूप में विभिन्न स्कूलों का दौरा करती है.

News
More stories
सफदरजंग हॉस्पिटल के बाहर सड़क पर महिला बच्चे को जन्म देने पर मजबूर, गर्भपती महिला को भर्ती न करने का अरोप