Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

UP Election Result 2022: क्या है यूपी की राजधानी लखनऊ और राम नगरी अयोध्या की जनता का फैसला !

10 Mar, 2022
Employee
Share on :
CM Yogi Adityanath win Uttar Pradesh

उत्तरप्रदेश में एक बार फिर से 37 साल बाद इतिहास दोहराने जा रहा है लेकिन इस बार कांग्रेस नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी इतिहास रच दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने उत्तरप्रदेश में पूर्ण बहुमत के साथ दूसरी बार अपनी सरकार बनाने में कामयाब हो पाई है, क्योंकि बीजेपी उत्तरप्रदेश में 403 सीटों में 273 सीट जितने में सफल रही।

bjp ने रचा 37 साल बाद इतिहास

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश election को मध्य नज़र रखते हुए हमें कई उतार चढ़ाव देखने को मिले बात करें विपक्षी पार्टीयों की तो उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रिमंडल के सदस्यों पर evm से छेड़छाड़ से लेकर कई गंभीर आरोप लगाएं लेकिन विपक्षी पार्टी चुनाव जीतने के साथ इस कार्य में भी विफल रही, अंत में 10 मार्च यानि आज भारतीय जनता पार्टी ने और योगी आदित्यनाथ ने इस्तिहस के पन्नों में अपना नाम दर्ज कर लिया। प्रधानमंत्री ने चुनाव प्रचार के दौरान एक बात कही थी की उत्तरप्रदेश होली से 10 पहले होली मना रहा होगा, pm मोदी की वो बात सच हुई और उत्तरप्रदेश में चुनावी नतीजे आने से पहले ही जनता होली और भगवे के रंग में डूब गयी। यहाँ तक की योगी आदित्यनाथ की इस बार एक अलग पहचान देखने को मिली जहाँ पर लखनऊ से गोरखपुर तक बस एक ही नाम था और वो था बुलडोज़र बाबा।

बुलडोज़र बाबा सीएम योगी आदित्यनाथ

अब बात करे यूपी की राजधानी लखनऊ और राम नगरी अयोध्या के चुनावी नतीजों की तो यूपी के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक ने प्रचंड बहुमत के साथ लखनऊ केंट की सीट को जीत लिया है। आपको बात दे लखनऊ केंट सीट से कानून मंत्री ब्रजेश पाठक को 108147 वोट मिले है जहाँ उन्होंने Samajwadi Party के सुरेंद्र सिंह गाँधी उर्फ़ राजू गाँधी को 39512 वोट से मात दी है। वहीँ कांग्रेस के दिलप्रीत सिंह और बसपा प्रत्याशी अनिल पांडे, ब्रिजेश पाठक के आसपास भी नहीं पहुँच सके। नतीजे आने के बाद जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने समर्थकों और मंत्रिमंडल से मिलने उत्तरप्रदेश के बीजेपी कार्यलय 5 कालिदास मार्ग पहुँचे तो उस दौरान उत्तरप्रदेश के बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, डिप्टी cm केसव प्रसाद मौर्या और डॉ दिनेश शर्मा के साथ ब्रिजेश पाठक समेत कई तमाम दिग्गज नेता मंच पर मौजूद रहे। जहाँ योगी आदित्यनाथ ने जीत का जश्न अपने मंत्रिमंडल के साथ होली खेल कर मनाया।

कानून मंत्री ब्रजेश पाठक

राम नगरी अयोध्या की रुदौली विधानसभा सीट की बात करे तो यहाँ भाजपा, सपा और बसपा की लड़ाई थी लेकिन बहुजन समाज पार्टी से अब्बास अली जैदी उर्फ रुश्दी मियां और समाजवादी पार्टी से आनंद सेन भारतीय जनता पार्टी के रुदौली विधानसभा से विधायक राम चंद्र यादव को मात देने में विफल रहे। राम चंद्र यादव को 94031 वोट मिले है जबकि बसपा 52181 और सपा 53415 पर ही सिमट कर रह गई।

यह भी पढ़ें- UP Election Results 2022: बीजेपी दफ्तर में मनाई गई जीत की होली, नेताओं-समर्थकों ने योगी को जमकर लगाया गुलाल

रुदौली विधानसभा से विधायक राम चंद्र यादव


बता दे कि राम चंद्र यादव 2012 और 2017 में भी विधायक चुने गए थे और जनता ने उनके काम, उनके विकास और अनके सचे वादों पर फिर से भरोषा जताया है। जिसके चलते उन्हें रुदौली विधानसभा सीट से 40616 वोट से जीत मिली। राम चंद्र यादव की इस जीत में कद्दावर नेता शिव कुमार पाठक का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा है। जहाँ पर शिव कुमार पाठक एक तरह से राम चंद्र यादव के लिए बैकबोन की तरह खड़े रहे है। जिसका नतीजा यह रहा की राम चंद्र यादव तीसरी बार रुदौली विधानसभा सीट से विधायक चुने गए।

शिव कुमार पाठक (राम चंद्र यादव के लिए बैकबोन)
News
More stories
UP Election Results 2022: बीजेपी दफ्तर में मनाई गई जीत की होली, नेताओं-समर्थकों ने योगी को जमकर लगाया गुलाल