Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

रूस ने 6 घंटे के लिए की अस्थाई संघर्ष विराम की घोषणा, अब भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए मिलेगा मानवीय कॉरिडोर

05 Mar, 2022
Sachin
Share on :

रूस ने अस्थाई संघर्ष विराम की घोषणा की है अब यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को निकालने में मिलेगी मदद

नई दिल्ली: रूस और यूक्रेन के युद्ध को 10 दिन हो गए है रूस के रक्षा मंत्रालय की जानकारी के अनुसार पुष्टि की गई है कि रूस ने अस्थाई संघर्ष विराम की घोषणा की है अब यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को निकालने में मदद मिलेगी रूस ने कहा है कि जब तक सभी देशों के लोग यूक्रेन छोड़कर नहीं जाते तब तक मारियुपोल और वोल्नोवाखा में सीजफायर रहेगा और शहरों से मानवीय गलियारा उपलब्ध होगा अब देखना है कि भारत किस नीति के तहत छात्रों और अन्य नागरिकों को कितनी जल्दी यूक्रेन से निकालता है.

संघर्ष विराम के बाद की स्थिति

रूस के यूक्रेन पर हमले के बीच भारतीय वायुसेना के तीन C-17 हैवी लिफ्ट एयरक्राफ्ट आज सुबह हिंडन एयरबेस में उतरे. इन उड़ानों ने रोमानिया, स्लोवाकिया और पोलैंड से 629 भारतीय नागरिकों को बाहर निकाला है. रूस ने जब संघर्ष विराम की घोषणा की है तब से भारत सरकार और यूक्रेन में रह रहे स्टूडेंट ने थोड़ी सी राहत की सांस ली है क्योंकि अभी कुछ दिन पहले एमबीबीएस स्टूडेंट नवीन की रूसी सेना ने गोली मारकर हत्या कर दी थी जिसके कारण वहां के स्टूडेंट में काफी ज्यादा डर फेल गया था और कुछ स्टूडेंट अभी यूक्रेन के बॉर्डर पारकर पोलैंड और अन्य देश पर पहुंचे उन्हें वहां पर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है वहां पर खाने-पीने की वस्तुएं भी नहीं मिल रही और उन्हें -10 डिग्री में रहना पड़ रहा है ऐसे में रूस ने संघर्ष विराम की घोषणा कर दी है तो ये भारत के लोगों के लिए राहत भरी खबर है.

रुसी सेना, युद्ध ठहरने के बाद

साथ ही रूस ने कहा है कि शनिवार को जीएमटी 07.00 बजे मारियुपोल और वोल्नोवाखा के लिए मानवीय कॉरिडोर खोले जाएंगे. इस दौरान लोग शहर छोड़ कर जा सकेंगे. रूस ने जो समय दिया है वह भारतीय समय के अनुसार शनिवार 11:00 का समय है रूस ने ऐसे समय में अस्थाई संघर्ष विराम की घोषणा की है जब यूक्रेन के अधिकतर हिस्से में रूस ने काफी ज्यादा विनाशकारी तबाही मचाई दी है इनमें कीएव, खारकीएव, सुमी, चेर्निगोव और मारियुपोल शहर सबसे ज़्यादा प्रभावित होने वाला शहर हैं.

युद्ध के बाद की स्थिति

यह भी पढ़े-यूपी चुनाव 2022 : वेस्टर्न लुक में नजर आईं ‘पीली साड़ी’ वाली मैडम

आपको बताते चले की रूस ने यूक्रेन के कई शहरों पर भारी तबाही मचाई हुई है रूस ने यूक्रेन के कई परमाणु पॉवर प्लांट भी अपने कब्जे में ले लिए हैं रूस ने यूक्रेन के सबसे बड़े प्लांट जेपोरजिया के परमाणु पावर को भी अपने कब्जे में ले लिया है  रूस के सैनिको ने जेपोरजिया के परमाणु पावर प्लांट में आग लगा दी थी अन्तरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा अभिकरण ने इस पर तुरंत चिंता जाहिर की और रूस के राष्ट्रपति पुतिन को इस घटना के बारे में बताया और फिर रुसी सैनिकों ने यूक्रेन की दमकल गाडियों को जगह दी जिसके बाद आग पर काबू पा लिया गया, और तब जाकर अन्तरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा अभिकरण संस्था ने आराम की सांस ली अगर यूक्रेन के परमाणु रिएक्टर में आग लग जाती तो यूक्रेन के आस-पास के देशों को भारी तबाही देखने को मिलती.

रूस की तबाही के बाद शहर की तस्वीर
News
More stories
नहीं रहे स्पिन के जादूगर, लीजेंडरी क्रिकेटर शेन वार्न, हार्ट अटैक से हुई मृत्यु