‘‘राष्ट्रीय दुग्ध दिवस 2023’’ के अवसर पर राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार 2023 भी प्रदान किए जाएंगे I

25 Nov, 2023
Head office
Share on :

पशुपालन और डेयरी विभाग कल गुवाहाटी में पशु चिकित्सा महाविद्यालय के प्रांगण में “राष्ट्रीय दुग्ध दिवस 2023” मना रहा है। यह विशेष दिवस “भारत में श्वेत क्रांति के जनक” डॉ. वर्गीस की 102वीं जयंती का सम्मान करता है, जो हमारे देश में डेयरी क्षेत्र की उपलब्धि और महत्व पर प्रकाश डालता है।

इस आयोजित कार्यक्रम के मुख्य अतिथि केंद्रीय मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री श्री परषोत्तम रूपाला होंगे। मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी राज्य मंत्री डॉ. संजीव कुमार बालियान और असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश के पशुपालन राज्य मंत्री भी इस अवसर की शोभा बढ़ाएंगे।

इस आयोजित कार्यक्रम में पशुपालन एवं डेयरी विभाग की केंद्रीय सचिव श्रीमती अलका उपाध्याय वरिष्ठ अधिकारियों सहित भाग लेंगी। कार्यक्रम के दौरान, नवीन प्रौद्योगिकियों, पशुधन उत्पादों और सेवाओं को प्रदर्शित करने वाली एक प्रदर्शनी और पूर्वोत्तर (एनईआर) राज्यों के लिए चारा कार्यनीति तैयार करने पर विशेष जोर देने के साथ फ़ीड और चारे पर ध्यान केंद्रित करने वाला एक तकनीकी सत्र आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में ए-हेल्प (पशुधन उत्पादन के स्वास्थ्य और विस्तार के लिए अधिकृत एजेंट) कार्यक्रम का राज्य स्तरीय लॉन्च भी निर्धारित है।

यह कार्यक्रम राज्य पशुपालन विभाग, असम पशुधन विकास बोर्ड और राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) के सहयोग से आयोजित किया जाएगा और इस कार्यक्रम में प्रतिष्ठित राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार 2023 भी प्रदान किए जाएंगे।

News
More stories
शिक्षा मंत्रालय ने, एक भारत, श्रेष्ठ भारत पहल के तहत युवा संगम के तीसरे चरण की शुरुआत की
%d bloggers like this: