Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

मायावती बोली- मैं PM या यूपी का CM बनने का सपना देख सकती हूं, लेकिन राष्ट्रपति का नहीं, बताया कैसे सत्ता में वापसी होगी

28 Apr, 2022
Sachin
Share on :

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा की सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा है कि वह एक बार फिर यूपी की सीएम और आने वाले समय में देश की प्रधानमंत्री बनना चाहती हैं, लेकिन राष्ट्रपति का पद उन्हें कभी मंजूर नहीं होगा.

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा की सुप्रीमो मायावती ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा है कि वह एक बार फिर यूपी की सीएम और आने वाले समय में देश की प्रधानमंत्री बनना चाहती हैं, लेकिन राष्ट्रपति का पद उन्हें कभी मंजूर नहीं होगा. समाजवादी पार्टी पर अफवाह फैलाने का आरोप लगाते हुए मायावती ने कहा कि यदि दलित, वंचित, मुस्लिम और सवर्ण समाज के गरीब पार्टी से दोबारा जुड़ जाते हैं तो उनका सीएम और पीएम बनना संभव है. इससे पहले ही अखिलेश यादव ने कहा था कि बसपा ने विधानसभा चुनाव में अपना वोट भाजपा को दे दिया था अब देखना है कि बीजेपी उन्हें राष्ट्रपति बनाती है या नहीं.

मायावती ने अखिलेश याफाव पर पलटवार करते हुए कहा की मैं कभी राष्ट्रपति पद स्वीकार नहीं करुँगी

और यह भी पढ़ें- मायावती ने राहुल गांधी के बयान पर पलटवार कर कहा ‘अपना घर तो संभालता नही, हमको नसीयत देने आ गये’

मायावती ने कहा, मैं फिर से यूपी की सीएम या फिर देश की पीएम बनने का सपना देख सकती हूं. देश का राष्ट्रपति बनने का सपना नहीं देख सकती, क्योंकि मैं ऐशों-आराम की जिंदगी नहीं चाहती, मैंने अपनी जिदंगी बाबा साहब अंबेडकर और मान्यवर कांशीराम के रास्ते पर चलकर दबे-कुचले लोगों को उनको अपने पैरे पर खड़ा करने के लिए समर्पित की है. यह सपा के अध्यक्ष को मालूम होना चाहिए. यह भी सब जानते हैं कि यह काम मैं देश का राष्ट्रपति बनकर नहीं बल्कि यूपी की सीएम और देश का पीएम बनकर कर सकती हूं.

राष्ट्रपति नहीं बनना चाहती: मायावती

यूपी चुनावों में हार के बाद पहली बार मीडिया से बात करते हुए मायावती ने कहा था कि उनके लिए राष्ट्रपति बनना तो बहुत दूर की बात है, वह इस बारे में कभी सपने में भी नहीं सोच सकतीं. बसपा प्रमुख ने कहा कि इनको यह भी मालूम है कि बहुत पहले ही मान्यवर कांशीराम ने उनका यह प्रस्ताव ठुकरा दिया था और मैं तो उनके पदचिह्नों पर चलने वाली उनकी मजबूत शिष्या हूं.

बीजेपी की जीत के लिए सपा जिम्मेदार- मायावती

मायावती ने कहा, “मैं फिर से उत्तर प्रदेश की सीएम या देश की पीएम बनने का सपना देख सकती हूं. राष्ट्रपति बनने का सपना कभी नहीं देखूंगी. यूपी में बीजेपी की जीत के लिए समाजवादी पार्टी जिम्मेदार है. मुझे सपा वाले राष्ट्रपति बनाकर क्षेत्र खाली करवाना चाहते हैं, ताकि यूपी के सीएम पद के लिए उनका रास्ता साफ हो जाए, लेकिन मैं इस क्षेत्र को कभी नहीं छोडूंगी. सपा मुखिया को अब अहसास हो गया है कि बीएसपी इनके बहकावे में कतई नहीं आएगी.

News
More stories
पेट्रोल-डीजल पर छिड़ा संग्राम, पीएम मोदी के खिलाफ राहुल से लेकर ममता तक सबने खोला मोर्चा