Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

Karnataka: ओल्ड हुबली में जहांगीर पुरी जैसी हिंसा भड़की, 12 लोग घायल, धारा 144 लागू

17 Apr, 2022
Sachin
Share on :

इस पथराव में इंस्पेक्टर सहित 12 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए करीब 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. मामला है एक धार्मिक स्थल को अपवित्र करने और उसको पोस्ट करने वाले का है.

नई दिल्ली: कर्नाटक के धारवाड़ जिले के पुराने हुबली पुलिस थाने पर शनिवार रात को भीड़ ने पथराव कर दिया. इस पथराव में इंस्पेक्टर सहित 11 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए करीब 40 लोगों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के आला अफसरों ने बताया कि भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हल्का पुलिसबल का प्रयोग कर लाठीचार्ज करने के साथ ही आंसू गैस के गोले भी छोड़ने पड़े.

ओल्ड हुबली के थाने में भीड़ ने किया पथराव

और यह भी पढ़ें-Karnataka: कोलार में करौली जैसी हिंसा, शोभा यात्रा पर पथराव, भड़की हिंसा लगा कर्फ्यू

पुलिस ने आगे कहा कि मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरू कर दी गई है. हिंसा की आग ज्यादा फैलने से इलाके का माहौल काफी संवेदनशील हो गया था जिसके कारण पूरे शहर में धारा 144 लगा दी. जांच चल रही है और मामला दर्ज कर लिया गया है.

पथराव के बाद शहर में धारा 144 लगा दी है

क्यों भड़की थी हिंसा?

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मामला यह था कि भीड़ ने आपत्तिजनक व्हाट्सएप स्टेटस रखने वाले एक व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. प्रदर्शनकारियों ने पास के हनुमान मंदिर और एक अस्पताल से पथराव करने की भी खबरें हैं. पुलिस आयुक्त लाभू राम ने कहा, पुराने हुबली पुलिस स्टेशन में पथराव की घटना हुई. जिसमें एक इंस्पेक्टर सहित चार पुलिसकर्मी घायल हो गए. नतीजतन पूरे शहर में धारा 144 लागू कर दी गई है और स्थिति नियंत्रण में है.

पुलिस आयुक्त लाभू राम

जिस व्यक्ति के खिलाफ सोशल मीडिया पर वीडियो अपलोड करने की शिकायत दर्ज की गई थी कमिश्नर लाभू ने बताया कि उसके खिलाफ ओल्ड हुबली थाने में मामला दर्ज किया गया था, आरोपी को गिरफ्तार कर लिया  गया.

भीड़ अचानक हुई हिंसक

थाने के बाहर जमा भीड़ अचानक हिंसक हो गई और थाने व पुलिस वाहनों पर पथराव शुरू कर दिया. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हल्का बल का इस्तमाल करते हुए लाठीचार्ज किया, लेकिन भीड़ बेखौफ थी. पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और उन्हें तितर-बितर कर दिया. ऐसी खबरें हैं कि भीड़ ने आपत्तिजनक व्हाट्सएप स्टेटस रखने वाले व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने हल्का बल का इस्तमाल करते हुए लाठीचार्ज किया

कर्नाटक के मंत्री डॉ. सीएन अश्वत्नारायण ने कहा कि कानून हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. नागरिकों और पुलिस पर हमला असहनीय है. हम इस घटना की निंदा करते हैं.

हुबली के पुलिस आयुक्त लाभू राम ने बीबीसी हिंदी को बताया, “एक धार्मिक स्थल को अपवित्र करने वाले मार्फ्ड वीडियो को पोस्ट करने वाले शख़्स को गिरफ़्तार कर लिया गया है. इस वीडियो को लेकर लोगों में काफी नाराज़गी थी और उन्होंने इसके ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराई थी.

News
More stories
बिना हेलमेट बाइक चलाना एक्टर वरुण धवन को पड़ा महंगा