Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

गुजरात के विधायक व दलित नेता जिग्नेश मेवानी को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार, ट्विटर ने दो ट्विट पर लगाई रोक

21 Apr, 2022
Sachin
Share on :

मेवानी के एक करीबी से मिली जानकारी के मुताबिक़ उन्होंने 2 दिन पहले हुई देश में हिंसक घटनाओं को लेकर अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया था जिसमें लिखा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नाथूराम गोडसे की विचारधारा में विचारधारा में विश्वास करते हैं इसलिए वे देश में शांति की अपील नहीं करेंगे.

नई दिल्ली: गुजरात के बड़े दलित नेता और हाली ही में कांग्रेस में शामिल हुए विधायक जिग्नेश मेवानी को असम पुलिस ने कल देर रात गुजरात के पालनपुर के सर्किट हाउस से गिरफ्तार कर लिया. उन्‍हें रात में ही अहमदाबाद लेकर आ गए थे और आज दोहपर करीब उन्‍हें असम ले जाया जाएगा. राजनीतिक दल राष्ट्रीय दलित अधिकार मंच के संयोजक मेवानी की गिरफ्तारी का कारण अभी तक स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है. हालांकि बताया जा रहा है कि पीएम मोदी के खिलाफ उनके ट्विट को लेकर असम पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया है. उनके ट्विटर अकाउंट से पता चलता है कि अधिकारियों के कहने के बाद उनके द्वारा किए गए कुछ हालिया ट्वीट्स को रोक दिया गया है.

जिग्नेश मेवानी को पुलिस गिरफ्तार करती हुई

और यह भी पढ़ें- Jahangirpuri Violence: जहांगीरपुरी में अतिक्रमण हटाने पर रुकी कार्रवाई, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- जैसी स्थिति है उसे बना कर रखें

जिग्नेश मेवानी को असम पुलिस ने किया गिरफ्तार

जिग्नेश गुजरात की वडगाम विधानसभा सीट से विधायक हैं. मेवाणी के समर्थकों ने कहा कि पुलिस ने अभी तक एफआईआर की प्रति साझा नहीं की है. सिर्फ उनके खिलाफ असम में दर्ज कुछ मामलों के बारे में जानकारी दी है. बताया जा रहा है कि असम में किसी केस के सिलसिले में जिग्नेश मेवाणी को गिरफ्तार किया गया है.

मामला क्या है?

मेवानी के एक करीबी से मिली जानकारी के मुताबिक़ उन्होंने 2 दिन पहले हुई देश में हिंसक घटनाओं को लेकर अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया था जिसमें लिखा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नाथूराम गोडसे की विचारधारा में विचारधारा में विश्वास करते हैं इसलिए वे देश में शांति की अपील नहीं करेंगे. इस ट्वीट से नाराज मोदी समर्थकों की ओर से असम में जिग्नेश मेवाणी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की गई थी. पुलिस ने बताया कि उनके खिलाफ दर्ज शिकायत को लेकर ही उनको हिरासत में लिया गया तथा ट्रांजिट रिमांड पर अहमदाबाद से दिल्ली तथा दिल्ली से असम ले जाया जाएगा.

जिग्नेश मवाई का ट्विटर अकाउंट

कन्हैया कुमार ने दी ट्वीट कर जानकारी

कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार ने भी इस मामले में ट्वीट किया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि वडगाम विधायक जिग्नेश मेवाणी को असम पुलिस ने पालनपुर सर्किट हाउस से गिरफ्तार किया है. पुलिस ने अभी तक हमारे साथ प्राथमिकी की प्रति साझा नहीं की है, हमें उसके खिलाफ असम में दर्ज किए गए कुछ मामलों के बारे में सूचित किया गया है और आज रात असम को निर्वासित किए जाने की संभावना है.

कांग्रेस में शामिल हुए कन्हैया कुमार ने जिग्नेश मेवानी की गिरफ्तारी की सूचना ट्विट करके दी
News
More stories
Uttarakhand: सीएम धामी ने पेयजल विभाग की समीक्षा, अधिकारियों को दिए सख्त निर्देश कहा जल स्रोतों पर ठोस योजना बनाएं