पंजाब प्रदर्शनकारी की मौत के बाद किसानों ने ‘दिल्ली चलो’ मार्च 2 दिनों के लिए रोका

22 Feb, 2024
Head office
Share on :

22 फरवरी, 2024: पंजाब के किसानों ने ‘दिल्ली चलो’ मार्च’ को 2 दिनों के लिए रोक दिया है। यह निर्णय एक प्रदर्शनकारी की मृत्यु के बाद लिया गया है।

मृतक प्रदर्शनकारी 21वर्षीय लवप्रीत सिंह था, जो पंजाब के लुधियाना जिले का रहने वाला था। वह ‘दिल्ली चलो’ मार्च में शामिल होने के लिए 21 फरवरी को पंजाब से निकला था।

मृत्यु का कारण:

  • किसान संगठनों का आरोप है कि लवप्रीत सिंह की मौत पुलिस की लाठीचार्ज में हुई है।
  • हरियाणा पुलिस ने इस आरोप से इनकार किया है और कहा है कि लवप्रीत सिंह की मौत हृदय गति रुकने से हुई है।

किसानों की मांग:

  • किसान संगठनों ने लवप्रीत सिंह की मौत की जांच की मांग की है।
  • उन्होंने हरियाणा पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग की है।

आगे की रणनीति:

  • किसान संगठन 23 फरवरी को अपनी आगे की रणनीति तय करेंगे।
  • उन्होंने कहा है कि यदि उनकी मांगें पूरी नहीं हुईं, तो वे ‘दिल्ली चलो’ मार्च फिर से शुरू करेंगे।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का वादा किया, जबकि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वतंत्रता संग्राम के उद्देश्य पर सवाल उठाया। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अपने अहंकार से किसानों की जान खतरे में डालने का आरोप लगाया.

दूसरी ओर, ‘भाइयों’ और ‘अन्नदाता’ कहे जाने वाले सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि सरकार प्रदर्शनकारी किसानों के साथ चर्चा करने के लिए तैयार है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि मोदी प्रशासन ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए कई उपाय लागू किए हैं।

TAGS : किसानों की मांग , हरियाणा पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की भी मांग , हरियाणा पुलिस , मृतक प्रदर्शनकारी , पंजाब प्रदर्शनकारी , दिल्ली चलो’ मार्च , पंजाब मुख्यमंत्री भगवंत मान , सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर

News
More stories
29 फरवरी को प्रधानमंत्री मोदी देंगे मध्यप्रदेश को कई सौगातें
%d bloggers like this: