Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

COMMONWEALTH GAMES 2022: 14 साल की अनाहत सिंह देश के लिए मैडल लाने को तैयार, जीता अपना पहला स्क्वाश मैच

30 Jul, 2022
Head office
Share on :
अनाहत सिंह

COMMONWEALTH GAMES 2022 में शिरकत करने वाली 14 साल की अनाहत सिंह भारतीय टीम से खेलने वाली सबसे युवा खिलाड़ी हैं. अनाहत ने शुक्रवार को महिला सिंगल्स के राउंड ऑफ 64 मैच में अपनी उम्र से कई साल बड़ी प्रतियोगियों को लगातार तीन गेमों में हरा कर अपने पहले स्क्वाश मैच में जीत हासिल की. अनाहत अब आगे आने वाले मैचों में शिरकत कर भारत को मैडल दिलाने की उम्मीद को पूरा करने की ओर रुख कर रही हैं.

COMMONWEALTH GAMES 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत की ओर से कई बड़े दिग्गज खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं. इनमें पीवी सिंधु, बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और मीराबाई चानू जैसे खिलाड़ियों के साथ साथ 14 वर्षीय भारत की सबसे युवा स्क्वैश खिलाड़ी अनाहत सिंह भी शामिल हैं. जिन्होंने कई बड़े खिलाड़ियों को पीछे छोड़ कर पहले स्क्वाश मैच में जीत अपने नाम कर सबका ध्यान अपनी ओर खींच लिया है.

कौन है सेंसेशन बनी अनाहत सिंह!

13 मार्च 2008 को दिल्ली में जन्मीं अनाहत सिंह अंडर-19 लेवल पर भारत की शीर्ष खिलाड़ियों में रह चुकी हैं. अनाहत महज़ 14 साल की हैं और दिल्ली में कक्षा नौवीं की छात्रा हैं. अनाहत को स्क्वैश से पहले बैडमिंटन पसंद था और वह पीवी सिंधु को खेलता देख बहुत पसंद करती थीं. इसके बाद अनाहत ने भी बैडमिंटन में भविष्य बनाने का सोचा. हालांकि, अपनी दीदी अमीरा को देखते हुए उन्होंने आठ साल की उम्र से ही स्क्वैश खेलना शुरू कर दिया. तब से लेकर अब तक अनाहत स्क्वैश खेल रही हैं और बड़े बड़े खिलाड़ियों को पीछे छोड़ कर दिग्गज खिलाड़ियों में अपनी जगह बनाती दिख रहीं हैं.

जीता पहला स्क्वाश मैच

अनाहत सिंह

शुक्रवार को महिला सिंगल्स के राउंड ऑफ 64 मैच में अनाहत ने शानदार प्रतियोगी सेंट विंसेंट और ग्रेनेडाइंस के जेडा रॉस को लगातार तीन गेमों में हराकर जीत अपने नाम की. अनाहत ने पहला गेम 11-5 से जीता और दूसरा गेम 11-2 से अपने नाम किया. इसी के साथ तीसरा गेम अनाहत ने 11-0 से जीत लिया और जैडा को राउंड ऑफ 64 के मैच में शिकस्त दी. इस जीत के बाद अनाहत ने पुरे देश के चेहरे पर ख़ुशी ला दी और सोशल मीडिया सेंसेशन बन छा गयीं.

कई खिताब अपने नाम कर चुकी हैं अनाहत

बता दें, 2019 में अंडर-11 लेवल पर पहली बार ब्रिटिश ओपन स्क्वैश टूर्नामेंट में गोल्ड मैडल भारत के नाम किया. इसी के साथ अनाहत ने एशियाई जूनियर चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था, और तो और साल 2020 में उन्होंने ब्रिटिश और मलेशिया जूनियर ओपन टूर्नामेंट में सिल्वर मैडल हासिल किया. उन्होंने फिलाडेल्फिया में आयोजित यूएस ओपन 2021 जूनियर स्क्वैश टूर्नामेंट भी जीता. 2022 में जून में थाईलैंड एशियाई जूनियर स्क्वैश चैंपियनशिप में अनाहत ने स्वर्ण पदक अपने नाम कर देश का नाम रोशन किया.

अनाहत सिंह

इसके अलावा अब अनाहत ने चेन्नई में हुए नेशनल कैंप में शानदार प्रदर्शन किया और बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए भारतीय स्क्वैश टीम में जगह बनाई और शानदार प्रदर्शन कर आगे बढ़ रहीं हैं. सूत्रों के मुताबिक, राष्ट्रमंडल खेल 2022 में अनाहत महिला सिंगल्स और डबल्स में भी नज़र आयंगी. कहा जा रहा है कि अनाहत विश्व जूनियर्स चैंपियनशिप 2022 में भी हिस्सा लेंगी. 

News
More stories
उत्तराखंड बनेगा हिमालयी राज्यों के लिए विकास का मॉडल