Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

यूपी के 80 हजार कोटेदारों को सीएम योगी ने दिया तोहफा, अब कोटेदारों को मिलेगा CSE का दर्जा

14 Jul, 2022
Sachin
Share on :

सीएम योगी ने कहा कि यूपी में 80 हजार राशन कोटेदारों ने प्रदेश के अंदर अच्छी व्यवस्था के लिए काफी सराहना हुई है. अब से आय जाति प्रमाणपत्र, बैंकिंग सुविधा, बिजली बिल जैसी सेवाएं आपके माध्यम से जनता को मिलेगी.

उत्तर प्रदेश: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि सभी कोटेदार प्रदेश के हर उस जरूरतमंद तक खाद्यान्न जरूर पहुंचाएं जो इसका हकदार है. इसके लिए तकनीक का इस्तेमाल करें. सरकार ई पास मशीन के माध्यम से खाद्यान्न वितरण पर कड़ी निगरानी करती है. धीरे-धीरे इसे और बेहतर बनाया जा रहा है. सरकार की योजनाओं को जमीनी स्तर पर लागु अकरने की जिम्मा कोटेदारों पर है. जरूरतमंदों तक खाद्यान्न पहुंचाकर वे पुण्य के भागीदार बन सकते हैं और जीवन में अनुपम सुख की अनुभूति भी कर सकते हैं.

कोटेदारों के जीवन में आएगा बदलाव

मुख्यमंत्री योगी ने गुरुवार यानी 14 जुलाई को योगिराज बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह में आयोजित प्रदेश की कोटे की दुकानों को जन सुविधा केंद्र (सीएससी) के रूप में विकसित करने के लिए मेमोरेंडम आफ अंडर स्टैंडिंग (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया. उन्होंने इस आयोजन में सावन के शुभारंभ पर सभी प्रदेशवासियों को बधाई देते हुए कहा कि आज जो एमओयू हुआ है, उससे प्रदेश के 80 हजार कोटेदारों के जीवन में व्यापक परिवर्तन और पारदर्शिता आएगी. देश की सबसे बड़ी आबादी वाले इस प्रदेश में15 करोड़ लोगों को कोटेदारों के माध्यम से निशुल्क या सस्ता राशन मिलेगा. इतनी मेहनत करने के बाद भी कोटेदारों को लोग हेय दृष्टि से देखते थे.

सीएम योगी ने कहा की 21 शताब्दी की सबसे बड़ी महामारी में कोटेदारों ने लोगों को सेवा दी

और यह भी पढ़ें- संसद में भ्रष्ट, जुमलाजीवी और बहरी सरकार जैसे शब्दों पर लगा बैन, विपक्ष ने जताई कई शब्दों पर आपत्ति

कोटेदारों की व्यवस्था को सराहया गया

यूपी में 80 हजार राशन कोटेदारों ने प्रदेश के अंदर अच्छी व्यवस्था के लिए काफी सराहना हुई है. अब से आय जाति प्रमाणपत्र, बैंकिंग सुविधा, बिजली बिल जैसी सेवाएं आपके माध्यम से जनता को मिलेगी. इससे आपकी इनकम भी बढ़ेगी. सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोटेदारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि यूपी का राशन कार्ड देश के दूसरे प्रदेशों में भी काम करता है और लोग इससे खाद्यान ले रहे हैं. किसी गरीब निराश्रित की मदद करना आपको पुण्य का भागी बना देता है. आप शासन की सुविधा को लोगों तक पहुँचाने का माध्यम बने हैं. इस सदी की सबसे बड़ी महामारी के दौरान भी सबको राशन की सुविधा उपलब्ध कराई गई. राज्य सरकार ने पात्र गृहस्थी राशन कार्ड धारकों को अपने स्तर पर दिसम्बर से 1 किलो दाल, 1 किलो रिफाइंड और नमक उपलब्ध कराया.

कोटे की दुकानों को यूपी सरकार करेगी व्यवस्थित

कोटे की दुकान को व्यवस्थित तरीके से बनाने का काम भी यूपी सरकार करने जा रही है. इस कार्यक्रम में आए गोरखपुर के कोटेदारों का कहना है कि कांग्रेस की सरकार के बाद पहली बार योगी आदित्यनाथ की सरकार ने लाभांश को 70 रुपये से बढ़ाकर 90 रुपया किया है. इसके पहले किसी सरकार ने हमारे बारे में नहीं सोचा था. हालांकि इनका मानना है कि जिस तरह से इनके कोटे की दुकानों पर खर्च और परिश्रम है उसके हिसाब से इनको कम से कम लाभांश के रूप में 150 रुपये मिलने चाहिए.

Edited By: Deshhit News

News
More stories
हरिद्वार: कांवड़ मेले को सफल बनाने के लिए सुपर जोनल ब्रीफिंग हुई सम्पन्न, 12 सुपर जोन, 32 जोन तथा 134 सेक्टर में बांटा गया