Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद आदित्य ठाकरे ने शिंदे गुट पर कसा तंज, कहा- दगाबाज कभी जीत नहीं सकते

27 Jun, 2022
Sachin
Share on :

उनकी यह टिप्पणी तब आई जब महाराष्ट्र का राजनीतिक संकट सुप्रीम कोर्ट पहुंचा जो अब इस मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी. वर्ली में आदित्य ठाकरे ने कहा, प्राण जाए पर वचन न जाये… जो लोग दगाबाजी करते हैं, जो भागकर जाते हैं, वह कभी जीतते नहीं है.

महाराष्ट्र: मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बेटे और पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे ने आज मुंबई के वर्ली में शिवसेना के बागी नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि आमने-सामने आकर यह बताने की हिम्मत करें कि सरकार ने आपके साथ क्या गलत क्या है. उन्होंने कहा, वो बागी विधायक मुम्बई आएं और मेरी आँखों मे आंखें डालकर कहें कि हमने तुम्हारे साथ क्या गलत किया है. आदित्य ठाकरे ने शिंदे खेमे को “विश्वासघाती” कहा. उन्होंने कहा कि  “जो विश्वासघात करते हैं … वे कभी नहीं जीतते. हमें विश्वास है कि हमें लोगों से बहुत प्यार मिल रहा है.   

उनकी यह टिप्पणी तब आई जब महाराष्ट्र का राजनीतिक संकट सुप्रीम कोर्ट पहुंचा जो अब इस मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को करेगा. वर्ली में आदित्य ठाकरे ने कहा, प्राण जाए पर वचन न जाये… जो लोग दगाबाजी करते हैं, जो भागकर जाते हैं, वह कभी जीतते नहीं है यह इतिहास गवाह में जो लोग धोका देते हैं वह लोग ज्यादा लम्बी पारी नहीं खेल पाते हैं वह सिर्फ एक जगह सीमित हो जाते हैं.

महाराष्ट्र का राजनीतिक संकट अब सुप्रीम कोर्ट पहुंचा जो इस मामले की अगली सुनवाई 11 जुलाई को करेगा

और यह भी पढ़ें- पहले बजट में मान सरकार ने किया बहुत बड़ा एलान, 1 जुलाई से पंजाब में मिलेगी 300 यूनिट मुफ्त बिजली

आदित्य ठाकरे ने बागियों पर साधा निशाना

असम के गुवाहाटी में एक होटल में ठहरे शिंदे गुट के मंत्री, उदय सामंत के शामिल होने के बारे में पूछे जाने पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि यह उनका निर्णय है वह कहाँ ठहरे और कहाँ नहीं, लेकिन वह किसी न किसी दिन हमारे सामने आएंगे. उन्हें एक ना एक दिन हमसे नजरें मिलानी ही होगी और इस बात का जवाब देना होगा की उन्होंने हमारे साथ गद्दारी क्यों की?

शिंदे गुट ने कहा- स्पीकर फ्लोर टेस्ट से क्यों डर रहे?

आपको बता दें कि, शिंदे गुट को जो डिप्टी स्पीकर ने अयोग्यता नोटिस दिया था उसके खिलाफ कोर्ट में याचिका दी गई थी जिसपर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. कोर्ट में शिंदे पक्ष के वकील ने कहा कि स्पीकर फ्लोर टेस्ट से डर क्यों रहे हैं? कोर्ट ने इस मामले को लेकर महाराष्ट्र के डिप्टी स्पीकर, महाराष्ट्र राज्य विधानसभा के सचिव, केंद्र और अन्य को नोटिस जारी कर दिया है. अगली सुनवाई 11 जुलाई को होगी. साथ ही कोर्ट ने बागी विधायकों को राहत देते हुए डिप्टी स्पीकर की तरफ से विधायकों को जवाब देने के लिए दिया गया समय 11 जुलाई शाम 5.30 तक के लिए बढ़ा दिया है.  

संजय राउत के मामले पर बोले आदित्य ठाकरे

वहीं शिवसेना सांसद संजय राउत को प्रवर्तन निदेशालय (ED) की तरफ से समन मिलने पर महाराष्ट्र के मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा कि ये राजनीति नहीं बल्कि अब ये सर्कस बन गया है. आज ईडी ने शिवसेना सांसद संजय राउत को पूछताछ के लिए समन जारी किया है. उन्हें ईडी के सामने कल यानी 28 जून को पेश होने और धनशोधन रोकथाम कानून के तहत अपना बयान दर्ज कराने के लिए बोला है. ईडी के इस समन के बाद शिवसेना ने विरोध किया और केंद्र सरकार पर सरकारी एजेंसी का दुरुपयोग करने और बदले की राजनीति का आरोप लगाया है.

संजय राउत के मामले पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि राजनीति नहीं बल्कि अब ये सर्कस बन गया

Edited By: Deshhit News

News
More stories
आटा के बाद अब चावल भी हुआ महंगा, सिर्फ पांच दिन में 10 फीसदी बढ़ें दाम, जानें- इसके पीछे की वजह