एटीएम में हो रहा नए तरह का खेल, टेप और गोंद का इस्तेमाल पढ़े पूरी खबर

11 Dec, 2023
Head office
Share on :

प्रयागराज: एटीएम में छेड़छाड़ करके शातिर रुपये उड़ाने लगे हैं। यूपी के प्रयागराज में युवकों का एक ऐसा गैंग सक्रिय हुआ है जो एटीएम में जाकर लोगों को शिकार बना रहा है। शातिर कभी एटीएम हैंग कर देते हैं तो कभी कार्ड धारक को गुमराह करके एटीएम कार्ड बदल देते हैं। इसके बाद एटीएम से रुपये निकाल लेते हैं। शहर के कई जगहों पर ऐसी घटनाएं सामने आई हैं। कर्नलगंज और झूंसी में दो मामले दर्ज हो चुके हैं।

साइबर एक्सपर्ट की मानें युवक एटीएम में जाकर कैश निकाली द्वार पर टेप या गोंद लगा लेते हैं। इससे रुपये बाहर नहीं निकलते। जब कार्ड धारक परेशान होता है तो उसे झांसा देकर बाहर कर देते हैं। इसके बाद शातिर टेप हटाकर रुपये निकाल लेते हैं। कुछ दिन पहले ही कर्नलगंज पुलिस ने इस तरह की ठगी करने वाले एक गैंग का खुलासा किया था। एक बार फिर से ठगों का गैंग सक्रिय हुआ है। पुलिस का कहना है कि इस तरह की ठगी में प्रतापगढ़ के कई गैंग पहले भी पकड़े जा चुके हैं।

भदोही जिले का रहने वाला सुनील नौ दिसंबर को संगम पेट्रोल पंप के पास स्थित एटीएम से रुपये निकालने गया। उसने चार हजार रुपये ट्रांजेक्शन किया। लेकिन एटीएम से रुपये नहीं निकले और बैंक से चार हजार ट्रांजेक्शन का मैसेज आ गया। वह परेशान होकर बाहर आ गया। थोड़ी देर में दो युवक पहुंचे। बोले क्या समस्या है। मिनी स्टेटमेंट निकालो। इस दौरान शातिरों ने उसका एटीएम का पिन देख लिया। झांसा देकर उसका एटीएम कार्ड लेकर बाहर निकल गए। एटीएम के अंदर उसने देखा कि कैश द्वार पर गोंद लगा था। जब तक उसे ठगी के बारे में जानकारी होती, वह बाहर निकला। बाइक सवार दोनों युवक जा चुके थे। कुछ ही देर में उसके एटीएम से 36 हजार रुपये और निकल गए। परेशान सुनील ने जार्जटाउन थाने में शिकायत की।

केनरा बैंक के कटरा शाखा में साइबर शातिरों ने एटीएम के कैश द्वार पर गोंद लगाकर रुपये निकाल लिए। इस तरह से कई बार में शातिर ठगों ने 81 हजार रुपये निकाल लिए। बैंक प्रबंधक स्वीन वर्मा ने कर्नलगंज थाने में साइबर शातिरों पर मुकदमा दर्ज कराया है। सिविल लाइंस के रहने वाले रवीश कुमार सिंह झूंसी स्थित एटीएम से रुपये निकालने गए। इस दौरान एटीएम में उनका कार्ड फंस गया। एक युवक ने खुद को कर्मचारी बताकर रवीश की मदद का झांसा दिया और लगभग 15 हजार रुपये निकाल लिए।

News
More stories
मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का जीवन परिचय
%d bloggers like this: