Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

गाजियाबाद में 3000 जोड़े बंधे विवाह के बंधन में, एक ही पंडाल के नीचे पंडितों ने मंत्रोच्चार किया तो मौलवियों ने निकाह पढ़वाया

24 Nov, 2022
komal verma
Share on :

आपको बता दें, यह पूरा मामला श्रम विभाग की तरफ से किया गया था। श्रम विभाग में जिन लोगों ने पंजीयन करा रखा था, उन लोगों को इस समारोह में शादी के बंधन में बांधने के इस भव्य कार्यक्रम में शामिल किया गया।

नई दिल्ली: गुरुवार को गाजियाबाद के कमला नेहरूनगर मैदान में सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन किया गया। इस आयोजन में हिंदू, मुस्लिम, सिख और बौद्ध धर्म के युवक- युवतियों ने भाग लिया। चारों धर्मों को मिलाकर लगभग 3000 जोड़े विवाह के बंधन में बंधे। समारोह का नजारा ऐसा था कि पंडाल के नीचे पंडितों ने मंत्रोच्चार किया तो मौलवियों ने निकाह पढ़वाया।

ये भी पढ़े: श्रध्दाहत्याकांड की तरह था 2010 का अनुपमा हत्याकांड, पति राजेश ने अनुपमा की बॉडी के किए थे 70 टुकड़े

विवाह समारोह में 30,000 हजार लोग हुए शामिल

Ghaziabad: 3000 Couples Will Tie The Knot In Mass Marriage Ceremony -  गाजियाबाद : सामूहिक विवाह समारोह में शादी के बंधन में बंधे 3000 जोड़े, एक  ही पंडाल के नीचे पंडित और
File Photo

आपको बता दें, यह पूरा मामला श्रम विभाग की तरफ से किया गया था। श्रम विभाग में जिन लोगों ने पंजीयन करा रखा था, उन लोगों को इस समारोह में शादी के बंधन में बांधने के इस भव्य कार्यक्रम में शामिल किया गया। विवाह समारोह में करीब 30 हजार लोग शामिल हुए। सभी लोगों के लिए खाने पीने का इंतजाम किया गया था। योगी सरकार पहले ही इस तरह के कार्यक्रमों के अयोजन की घोषणा कर चुकी है।

12 फरवरी को लखनऊ में सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाएगा

File Photo

इसी कड़ी में अब 12 फरवरी को लखनऊ मंडल में सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाएगा। श्रम विभाग पंजीकृत श्रमिकों की बेटियों का सामूहिक विवाह कराया जाएगा। प्रदेश में रहने वाले श्रमिकों को सरकारी योजनाओं से जोड़कर उनके और उनके परिवार की स्थिति को बहतर बनाने की सरकार तैयारी कर रही है।

योगी के नेतृत्व में विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं – श्रम एंव सेवायोजन मंत्री

File Photo

इस मौके पर श्रम एंव सेवायोजन मंत्री अनिल ने कहा कि मुख्यमंत्री के नेतृत्व में बच्चे के पैदा होने से लेकर उसके पूरे जीवन भर के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि गरीबी की जड़ अशिक्षा है, इसलिए नवोदय की तर्ज पर अटल आवासीय विद्यालयों की स्थापना की जा रही है, ताकि इस बुराई को जड़ से समाप्त किया जा सके।

योगी आदित्यनाथ सामूहिक विवाह योजना 

UP News: योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार ने कराया दो लाख बेटियों का वि‍वाह , 21 हजार  से ज्यादा अल्पसंख्यक - Yogi Adityanath government got two lakh daughters  married and more than 21 thousand ...
File Photo

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा समय-समय पर जनता के लिए कई कल्याणकारी योजनाओं को शुरू किया जाता रहा है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा महिलाओं के सामाजिक कल्याण के लिए राज्य में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का शुभारम्भ किया गया है। इस योजना के तहत राज्य में गरीब परिवार के विवाह के जोड़े को 35,000 रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी जिसमे से 20,000 रुपए लाभार्थी को उसके बैंक खाते में ट्रांसफर किये जायेंगे।

आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को मिलता है, योजना का फायदा

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत हुआ आयोजन, जनप्रतिनिधियों ने  नवविवाहितों को दिया आशिर्वाद | Organized under Chief Minister's mass  marriage scheme, public ...
File Photo

योजना का लाभ उन सभी परिवारों को हो सकेगा जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग में आते हैं ऐसे गरीब परिवार के शादी करने वाले जोड़ों को राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा गरीब परिवार में शादी योग्य जोड़ों का चयन करने के लिए Uttar Pradesh Samuhik Vivah Yojana के तहत एक समिति का भी गठन किया गया है

उत्तर – प्रदेश मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का उद्देश्य

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना बनी गरीब की बेटी का संबल, योगी सरकार 100  दिनों में करा चुकी 1500 जोड़ों का विवाह - Mukhyamantri Samuhik Vivah Yojana  became support of ...
File Photo

उत्तर प्रदेश द्वारा बाल विवाह तथा शिक्षा को बढ़ावा देना और गरीब परिवार के सामाजिक कल्याण के लिए इस योजना का शुभारम्भ किया गया है। यूपी सरकार द्वारा गरीब परिवार की बेटियों की शादी के लिए इस योजना को शुरू किया गया है। ऐसी गरीब परिवार जो अपनी कन्याओं की शादी आर्थिक तंगी के चलते अच्छे से नहीं कर पाते है। उन परिवार को सरकार द्वारा शादी का आयोजन करने के लिए आर्थिक सहायता दी जाती है जिससे ऐसे परिवार अपनी बेटी की शादी अच्छे से कर सकें। “यूपी सामूहिक विवाह योजना” के तहत गरीब परिवार की बेटियों को शादी के समय आर्थिक सहायता के रूप में धनराशि उनके बैंक खाते में प्रदान की जाती है।

Edit By Deshhit News

News
More stories
श्रध्दाहत्याकांड की तरह था 2010 का अनुपमा हत्याकांड, पति राजेश ने अनुपमा की बॉडी के किए थे 70 टुकड़े