Breaking news

सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने पंजाब के कानून मंत्री और DGP को दी चेतावनी

Madrasa Survey: उत्तराखंड में भी होगा मदरसों का सर्वे, CM पुष्कर सिंह धामी ने बताया जरुरी ! Delhi News: जल्द होगा MCD Election की तारीख का ऐलान, वार्डों के प्रस्तावित नक्शे पर कमेटी ने मांगे सुझाव पश्चिम बंगाल में नबान्न अभियान को लेकर BJP और पुलिस आमने सामने, हिरासत में लिए गए शुभेंदु अधिकारी-लॉकेट चटर्जी Delhi News: AAP के दो विधायक दंगा भड़काने में दोषी करार, 7 साल पुराना है मामला; 21 सितम्बर को कोर्ट सुनाएगा सजा Mumbai News: शख्स की कार में लगी आग तो मदद के लिए आगे आए महाराष्ट्र CM एकनाथ शिंदे, रुकवाया काफिला

बागी विधायकों को लेकर महाराष्ट्र में बवाल, एकनाथ शिंदे को झटका, मुंबई में लगी धारा-144

25 Jun, 2022
Sachin
Share on :

महाराष्ट्र में हो रही हिंसा पर महाविकास अघाड़ी ने पल्ला झाड़ लिया है. कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा, MVA हिंसा का समर्थन नहीं करती है. यहां वफादार शिवसैनिकों के बीच नाराजगी है.

महराष्ट्र: महाराष्ट्र में राजनीतिक घमसान के बीच  डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल ने अविश्वास प्रस्ताव वापिस कर दिया है. इससे बागी गुट को बड़ा झटका लगा है. एकनाथ शिंदे गुट अब इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट की ओर जाने की तैयारी कर रहा है. बताया जा रहा है कि आगे की रणनीति तय करने के लिए गुवाहाटी स्थित रेडिशन ब्लू होटल में शिंदे के साथ बागी विधायकों की बैठक हो रही है.

मीडिया की ख़बरों की माने तो शिवसेना कार्यकर्ताओं ने शनिवार यानी 25 जून को पार्टी के बागी विधायक तानाजी सावंत के एक कार्यालय में तोड़फोड़ की, जो इस समय एकनाथ शिंदे गुट में शामिल हैं. बताया जा रहा है कि कार्यकर्ताओं का एक समूह आज सुबह कटराज इलाके में स्थित भैरवनाथ शुगर वर्क्स के कार्यालय में घुस गया और सावंत के कार्यालय को पूरा क्षतिग्रस्त कर दिया. शिवसेना के पार्षद विशाल धनवाड़े ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा, सावंत के कार्यालय में तोड़फोड़ तो बस एक शुरुआत है. बागी विधायक के कार्यालय को आने वाले दिनों में तोड़ दिया जाएगा.

शिवसेना कार्यकर्ताओं ने शनिवार को पार्टी के बागी विधायक तानाजी सावंत के एक कार्यालय में तोड़फोड़ कर विरोध-प्रदर्शन किया

और यह भी पढ़ें- गुजरात दंगों पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बोले ग्रह मंत्री अमित शाह- ‘मोदीजी को दर्द झेलते देखा है उन्होंने 18 साल से विषपान किया है’

MVA ने हिंसा से पल्ला झाड़ा

महाराष्ट्र में हो रही हिंसा पर महाविकास अघाड़ी ने पल्ला झाड़ लिया है. कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा, MVA हिंसा का समर्थन नहीं करती है. यहां वफादार शिवसैनिकों के बीच नाराजगी है, जो वफादारी बदलने वाले स्थानीय विधायकों के खिलाफ नाराजगी जाहिर कर रहे हैं. यह कानून और व्यवस्था की स्थिति नहीं है.

मुंबई में धारा 144 लागू

मुंबई में धारा 144 लागू कर दी गई है. सभी नेताओं, विधायक, नगरसेवक शाखा प्रमुख के दफ्तर पर पुलिस ने कड़ी सुरक्षा दी है. कमिश्नर की बैठक में ये निर्णय लिया गया है कि सभी राजनीतिक दलों के नेता पुलिस से समन्वय बनाकर चले और किसी तरह की कोई हिंसा, पोस्टरबाजी और बैनरबाजी न करें और साथ ही सभी लोग पुलिस के साथ शांति व्यवस्था बनाने में सहयोग करें. जानकारी के मुताबिक, 10 जुलाई तक शहर में धारा 144 लागू रहेगी. साथ ही इस दौरान सोशल मीडिया पर भी पुलिस की कड़ी निगरानी रखी जा रही है. कई जगहों पर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बागी नेताओं के ठिकानों पर हमले किए है जिसके बाद पुलिस द्वारा यह फैसला लिया गया है.

मुंबई में धारा 144 लागू कर दी गई है. सभी नेताओं, विधायक, नगरसेवक और शाखा प्रमुख के दफ्तर पर पुलिस ने कड़ी सुरक्षा दी है

उद्धव ठाकरे का शिंदे पर निशाना

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को अपनी सरकार पर मंडराते राजनीतिक संकट से लड़ने के दृढ़ संकल्प व्यक्त किया और कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे पर निशाना साधते हुए कहा कि विद्रोही नेता का बेटा लोकसभा सांसद बना बैठा है, तो क्या उनके बेटे आदित्य ठाकरे को राजनीतिक रूप से आगे नहीं बढ़ने का अधिकार नहीं है. फिलहाल दोनों पक्ष ने चार दिन पुराने गतिरोध को तोड़ने के लिए पीछे हटने के कोई संकेत नहीं दिये हैं. ठाकरे ने कहा कि शिंदे को शहरी विकास का प्रमुख विभाग दिया गया था, जो आमतौर पर तत्कालीन मुख्यमंत्री के पास रहता है.

Edited By: Deshhit News

News
More stories
शिवसैनिकों के तांडव के बीच शिंदे ने लिखा उद्धव को खत, 38 विधायकों के परिवार की सुरक्षा वापस ली गई यह बहुत दुर्भावनापूर्ण